मोदी तो पहले से ही थे आतंकी निशाने पर, अब डोभाल को टार्गेट कर बना सुसाइड स्क्वाड

0
37

कश्मीर से आर्टिकल 370 हटाने के बाद आतंकवादी संगठन जैश-ए-मोहम्मद प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल पर हमले की तैयारी कर रहे हैं. इसके लिए आतंकी संगठन एक विशेष दस्ता तैयार कर रहा है.

एक विदेशी खुफिया एजेंसियों से मिली जानकारी के मुताबिक ISI का एक मेजर इस हमले की तैयारी में जैश की मदद कर रहा है. मेजर द्वारा जैश-ए-मोहम्मद को पीएम मोदी और डोभाल से जुड़े हर इनपुट भेज जा रहे हैं. विदेशी खुफिया एजेंसी को इस बात का पता जैश के पाकिस्तानी आतंकवादी शमशेर वानी और जैश सरगना के बीच हुई बातचीत की रिकॉर्डिंग से मिला है.

दरअसल इस विदेशी खुफिया एजेंसी ने भारतीय खुफिया एजेंसी के अधिकारियों को बताया है कि आतंकी सिंतबर-अक्टूबर के बीच एक बड़ा हमला कर सकते हैं. जानकारी मिलते ही जम्मू, पठानकोट, जयपुर, गांधीनगर और लखनऊ समेत कुल 30 अतिसंवेदनशील शहरों में पुलिस को अलर्ट जारी कर दिया गया है. इनपुट के आधार पर सभी अतिसंवेदनशील शहरों में पुलिस चौकसी बढ़ा दी गई है. हमले के इनपुट मिलने के बाद NSA डोभाल की सुरक्षा व्यवस्था की समीक्षा भी की गई है.

बता दें कि धारा 370 हटाने के बाद से पीएम मोदी पर आतंकियों के निशाने पर हैं. बताया जाता है कि डोभाल ने जिस तरह से उरी आतंकी हमले के बाद पाकिस्तान सीमा में घुसकर सर्जिकल स्ट्राइक और पुलवामा हमले के बाद एयरस्ट्राइक की रणनीति तैयार की थी, उसके बाद से पाकिस्तान में बैठे आतंकी संगठन उन्हें मारने की योजना तैयार कर रहे हैं.