Breaking News
Home / ख़बर / राजनीति / IMF Report : गिरते-गिरते गर्त में पहुंच गई हमारी अर्थव्यवस्था, सरकार है कि मानने को तैयार नहीं !

IMF Report : गिरते-गिरते गर्त में पहुंच गई हमारी अर्थव्यवस्था, सरकार है कि मानने को तैयार नहीं !

आर्थिक मोर्चे पर जूझ रही मोदी सरकार के लिए एक और बुरी खबर आयी है. जिनेवा स्थित विश्व आर्थिक मंच के वार्षिक वैश्विक प्रतिस्पर्धात्मकता सूचकांक (वर्ल्ड कॉम्पटेटिवनेस इकोनॉमी इंडेंक्स) में भारत 10 पायदान नीचे खिसककर 68वें स्थान पर आ गया है. आंतरिक मंदी से जूझ रहे भारत का 10 पायदान नीचे लुढ़कना अर्थव्यवस्था को संभालने के प्रयासों में जुटी सरकार के लिए अच्छा संकेत नहीं है.

वर्ल्ड इकोनॉमिक फोरम के ताजा इंडेक्स से पहले भारत ग्लोबल कॉम्पटेटिव इंडेक्स में 58वें स्थान पर था. मगर इस साल भारत ब्राजील के साथ ब्रिक्स देशों में सबसे कमजोर प्रदर्शन करने वाली अर्थव्यवस्थाओं में से रहा और भारत को 68वे स्थान पर रखा गया है. वहीँ चीन 28 वें स्थान पर और ब्राजील को कॉम्पटेटिव इंडेक्स में 71वें नंबर पर रखा गया है.

कोलंबिया, दक्षिण अफ्रीका और तुर्की सहित समान रूप से रखी गई अर्थव्यवस्थाओं की संख्या में पिछले एक साल में सुधार हुआ है और इसलिए भारत से आगे निकल गया है. समग्र रैंकिंग में भारत के बाद उसके कुछ पड़ोसी शामिल हैं जिनमें श्रीलंका 84 वें स्थान पर, बांग्लादेश 105 वें स्थान पर, नेपाल 108 वें स्थान पर और पाकिस्तान 110 वें स्थान पर है.

टॉप पोजीशंस की बात करें तो ट्रेड वॉर के चलते अमेरिका को अपनी पहली रैंकिंग गंवानी पड़ी है. अब उसकी जगह सिंगापुर ने ले ली है. प्रतिस्पर्धिता रैंकिंग में पहले स्थान पर सिंगापुर, दूसरे स्थान पर अमेरिका, तीसरे पर हांगकांग, चौथे पर नीदरलैंड और पांचवें पर स्विट्जरलैंड रहा.

 

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com