अगर चाहते है रात में मिले अच्छी नींद, तो जरूर अपनाएं ये आसान टिप्स

0
23

प्रत्येक व्यक्ति के लिए नींद की आवश्कता उतनी ही होती है जितनी की भोजन की। कई बार दिन भर टूट कर मेहनह करने के बाद जब आप बिस्तर पर जाते है तब काफी देर तक कोशिश करने के बाद भी नींद नहीं आती है, और उचित मात्रा में नींद न लेने पर हमारा शरीर कई बीमारियों का शिकार हो सकता है।
अनिद्रा को मनोविज्ञान की भाषा मे insomnia (इनसोम्निया) भी कहा जाता है। अगर रात को आपको सही से नींद नहीं आती है तो  अगला पूरा दिन थका हुआ और तनावग्रस्त महसूस होता रहता है।
हमें कितनी नींद की आवश्यकता होती है, ये हमारी उम्र पर निर्भर होता है
1-छोटे बच्चे – लगभग 17 घन्टे
 
2- किशोर – लगभग 9 से 10 घन्टे
 
3- व्यस्क – लगभग 8 घन्टे
मनोविज्ञानिकों  के अनुसार व्यक्ति को रात में कम से कम 7 से 8 घंटे की नींद लाभकारी होती है। ऐसे में ठीक से नींद न आना एक समस्या उत्पन्न कर सकती है।

आइये जानते है कुछ ऐसे साधारण तरीके जिनसे आप रात में अच्छी नींद ले पाएंगे :

  • सोने से पहले गरम पानी से नहाने से हमारी मांस पेशियों को बहुत आराम मिलता है। और शरीर का तापमान कम होता है जो कि हमको अच्छी नींद लाने में काफी मदद करता है।
  • रिसर्च के दौरान यह देखा गया है की जो व्यक्ति दिन मे 2-3 बार से अधिक चाय या कॉफी का सेवन करते है, उनको अक्सर रात में जल्दी नींद नहीं आती है। क्योकि चाय और कॉफी मे  कैफीन नामक रसायन काफी अधिक मात्रा में पाया जाता है जो कि हमारी नींद को काफी हद तक प्रभावित करता है। अतः कोशिश करे कि सोने से पहले चाय और कॉफी का सेवन न करें।
  • रात में हल्‍का भोजन करना स्वस्थ के लिहाज से काफी फायदेमंद साबित होता है। सोने से कम से कम 2 घंटे पहले भोजन कर लेना चाहिए। जिससे भोजन ठीक प्रकार से पच जाता है।
  • सोते समय इंटरनेट का उपयोग न करें।
  • सोने से कुछ देर पहले किसी भी वस्तु पर सही से ध्यान केन्द्रित करना चाहिए। हम इसमें प्रार्थना या ध्यान को भी शामिल कर सकते है। यह आपके दिमाग को शांत करता है। जिससे आपको अच्छी नींद आएगी।
  • दिन मे कम से कम सोना चाहिए। क्योकि यदि आप दिन मे अधिक सोयेंगे तो रात मे नींद देर से आएगी।
  • हमारा सोना और जागना हमारी आदत का एक हिस्सा होता है। अतः सोने और जागने को हमारा दिमाग एक आदत की तरह लेता है और आदत कि तरह ही प्रतिक्रिया करता है। अतः व्यक्ति को हमेशा अपने सोने और जागने के समय को निश्चित करना जरुरी होता है। इससे आपको अनिद्रा जैसी समस्या नहीं होगी।
  • कुछ पढ़ने, सोंचने या कुछ खाने पीने के तुरंत बाद सोने के लिए नही जाना चाहिए। क्योकि उस समय आपका मस्तिष्क उत्तेजित ,अवस्था में होता है जो कि ठीक से नींद न आने का कारण बन सकता है।

नोट : इस आर्टिकल में दी गई जानकारियां रिसर्च पर आधारित हैं । इन्‍हें लेकर हम यह दावा नहीं करते कि ये पूरी तरह सत्‍य और सटीक हैं, इन्‍हें आजमाने और अपनाने से पहले संबंधित क्षेत्र के विशेषज्ञ की सलाह जरूर लें।