क्राइम

महिला का X-Ray को देख डॉक्टरों के उड़े होश, प्राइवेट पार्ट में नजर आया बाइक का हैंडल

महिला के X-Ray से उड़े डॉक्टरों के होश, प्राइवेट पार्ट में मिला ये सामान

आये दिन हो रहे अपराधो को रोकने में पुलिस और प्रसाशन नाकाम से दिख रहे है. माहिलाओ के साथ हर दिन कुछ न कुछ बड़ी घटनाये सामने आती है.  कुछ खबरें ऐसी होती हैं, जिन पर भरोसा करना नामुमकिन सरीखा होता है. ज्यादातर ऐसी खबरें रिश्तों को शर्मसार करने वाली होती हैं, जिनके बारे में जानकर सबका सिर शर्म से झुक जाता है. इस खौफनाक मामला ने लोगो को होश उड़ा दिए. आज जिस मामले की बात हम आपको बताते जा रहे इस  मामले ने  रिश्तो की मन मरियादयो को कलंकित कर दिया.

मिली जानकारी के मुताबिक ये मामला  इंदौर के चंदन नगर थाना क्षेत्र से  दरिंदगी का मामला सामने आया है. यहां एक पति ने अपनी पत्नी से लड़ाई-झगडा होने पर महिला के प्राइवेट पार्ट में बाइक का हैंडल डाल दिया. महिला करीब 8 माह तक दर्द सहती रही. फिर जब उसकी तबियत बहुत जायदा खराब हुई तो उसे एमवाय अस्पताल में भर्ती किया गया जहां 18 डॉक्टरों ने 4 घंटे तक चले जटिल ऑपरेशन के बाद हैंडल निकाला. फिलहाल महिला के लिए अगले 72 घंटे काफी महत्वपूर्ण हैं और वो पूरी तरह डॉक्टरों की निगरानी में है.

डॉक्टरो ने  इस मामले बताया कि ग्रिप महिला की बच्चेदानी, पेशाब की थैली और छोटी आंत तक पहुंच गयी थी. मोटरसाइकिल की ग्रिप के बच्चेदानी में लंबे समय तक फंसे रहने के कारण मरीज के इस अंग में संक्रमण फैल गया था. अगर इस चीज को जल्दी बाहर नहीं निकाला जाता, तो संक्रमण उसके पूरे शरीर में फैल सकता था. वही  बताते चले पुलिस ने महिला के पति को गिरफ्तार किया है.  चंदन नगर थाना प्रभारी राहुल शर्मा ने मामले की जांच के हवाले से बताया कि महिला के पति प्रकाश भील उर्फ रामा (35) के दूसरी महिला से संबंध थे.

ये थी घटना

आपको बता दें कि पीड़ित महिला अपने पति की बेवफाई से नाराज थी. उसे पति की दूसरी महिला से मेलजोल परे आपत्ति थी। इस पर पति-पत्नी में विवाद हुआ। पत्नी की रोकटोक पति को इतनी नागवार गुजरी कि उसने पत्नी को शराब पिलाकर उसके गुप्तांग में हैंडल डाल दिया. शर्म के कारण महिला ने ये घटना किसी को नहीं बताई और ऐसी ही हालत में महिला ने करीब 2 साल गुजारे. दर्द बढ़ने पर वो अस्पताल भी पहुंची, लेकिन पैसे के अभाव में वह लौट आई. कई बार उसने चंदन नगर थाने जाकर पति द्वारा मारपीट करने की बात भी बताई लेकिन पुलिस ने उसका मजाक बनाकर लौटा दिया. इस बीच इन्फेक्शन पूरे शरीर में फैल गया और उसका चलना-फिरना भी मुश्किल हो गया. दर्द असहनीय हुआ तो शनिवार को फिर हिम्मत जुटाकर वह थाने पहुंची. उसकी हालत देख महिला आरक्षक का दिल पसीजा और वो उसे अस्पताल ले गई. यहां उसे भर्ती कर विशेषज्ञ डॉक्टरों की देखरेख में ऑपरेशन करने का फैसला किया.

उधर चंदनगर थाने के प्रभारी राहुल शर्मा ने बताया कि महिला की शिकायत पर उसके पति प्रकाश उर्फ रामा भील निवासी स्कीम नंबर 71 झोपड़पट्टी के खिलाफ केस दर्ज कर लिया गया है.

महिला ने पुलिस को बताया कि उसने साल 2005 में प्रकाश से प्रेम विवाह किया था. दोनों की 5 बेटियां और एक बेटा है. पति बॉम्बे बाजार में बैंड वाले के यहां मजदूरी करता है. महिला ने बताया कि उसे पता चला कि पति का राधा नामक महिला से प्रेम प्रसंग चल रहा है और अधिकांश समय वो उसी के साथ बिताता है। इसे लेकर महिला ने विरोध जताया तो वह गाली-गलौज और मारपीट करने लगता. फिर उसने ये हरकत कर डाली.

कई अंग क्षतिग्रस्त

डॉक्टरों ने बताया कि हैंडल करीब 2 साल तक गुप्तांग के जरिए पेट में रहने से गर्भाशय क्षतिग्रस्त हो गया था. अंदर कई नसें भी कट गई थी. सोनोग्राफी और सीटी स्कैन में पता चला कि हैंडल गर्भाशय और पेट के बीच फंसा है. हैंडल की लंबाई करीब 15 सेमी और साढ़े 3 सेमी चौड़ाई और मोटाई थी.

Back to top button