Top News
तुलसी के पत्तों से करें ये अचूक उपाय, शर्तिया बदल…21 नवम्बर राशिफल : आज इन 4 राशियों के जातक…नित्यानंद आश्रम की 2 संचालिकाएं पकड़ीं, प्रमोशन एक्टिविटी करवाकर 7…ये हैं टीवी शो ‘कुमकुम भाग्य’ एक्टर्स के रियल लाइफ…किन्नरों को कभी न करें इन चीजों का दान, झेलना…लड़कियों की जींस में चेन का क्या काम, वजह जान…संसद में सीट बदले जाने पर भड़के संजय राउत, वेंकैया…आलिया के इस नाइट-सूट की कीमत इतनी ज्यादा, जानकर आ…शिवसेना संग सरकार के लिए तैयार हुईं सोनिया गांधी, अगर…नुसरत जहां लगाई अफवाहों पर विराम, VIDEO शेयर कर खुद…आसपास आत्‍मा भटकने पर मिलते हैं ये इशारे, जरुर जान…भूल से भी शाम को न करे ये 8 काम,…KKR वालों ने युवी के सवाल पर कसा ऐसा तंज,…35 सालों से कुछ लिखता था भिखारी, जब एक महिला…मेहंदी में ये चीज मिलाकर लगा लें, पूरी उम्र बाल…मनोज बाजपेयी और एली अबराम की ये मस्ती देख हो…जोक्स : तलाकशुदा पड़ोसन रात में मोनू के घर गई…Bigg Boss 13: थम नहीं रही असीम-सिद्धार्थ के बीच जंग,…एकदम फिल्मी है अंबानी की बहन की लव स्टोरी, जब…सुष्मिता के बर्थडे पर बॉयफ्रेंड ने दिया ऐसा खास सरप्राइज,…सैमसंग का फोल्डेबल स्मार्टफोन W20 5G लॉन्च, 6 कैमरों से…बाहुबली से अजय की तानाजी की तुलना, एक्टर दिए गजब…योगी पर हमला बोल प्रियंका ने अपने ही पैरों पर…क्या कहता है सड़क पर पड़ा मिला पैसा, क्या आपको…यूपी पुलिस भर्ती बोर्ड में निकली इन पदों पर नौकरी,…पानी में बस आधा चम्मच नमक मिलाके करें स्नान, फिर…सैफ की ये आदत करीना को करती है तंग, बेबो…जुड़वा बहनों ने साथ मिलकर किया ऐसा कारनामा, किसी को…सांपों का अलग अलग जगह दिखना देता है ऐसे संकेत,…टिक-टॉक स्टार बनने को लहराई पिस्टल, लेकिन हाथ ने दे…स्ट्रेच मार्क्स से अब शर्मिंदा होने की जरूरत नहीं, इन…JNU विवाद में कन्हैया का PM पर हमला, बोले- मोदी…गुलाबी जश्न में डूबा कोलकाता, अभी से ईडन में दिख…नमूना है पाक का हर पत्रकार, तौबा-तौबा और चांद नवाब…हो गया कन्फर्म : 25 नवंबर को बनेगी महाराष्ट्र में…Video : साक्षी के बर्थडे पर रोमांटिक हुए माही, इस अनोखे…एकता कपूर ने खोला अपनी अंगूठियों का राज, एक उंगली…बुजुर्ग ने प्रणाम की जगह बोला राम-राम, गुस्साए दबंग ने…भारत में आज होगा लॉन्च होगा Realme का ये धांसू…आधी रात में नींद का खुलना खतरनाक, जानिए क्या संकेत…जोक्स: होली खेलते हुए साली से बोला जीजा- कौन से…SBI ने दो कस्टमर्स को दिया एक ही अकाउंट नंबर,…डायबिटीज कंट्रोल करने के लिए बेस्ट है ये चीज, जान…शादी के दिन मांगे आठ लाख, न दे सका बाप…6 साल की बच्ची बनी दिव्यांग बाप का सहारा, करती…बद कमरे में मिली युवक की लाश, हाथ पर लिखा-…आधार कार्ड बनाने वाले ने बना लिया WhatsApp ग्रुप, जोड़ीं…बलात्कार के बाद हो रहे थे दोनों फरार, लेकिन किस्मत…लवर संग भागी तो बहन को भी साथ ले गई,…बिहार सरकार ने खोला नौकरियों का पिटारा, 1500 से ज्यादा…

हाथ-पैर पर उभरी हुई नीली नसें हैं खतरनाक, ऐसे करिए घर में इसका इलाज

आपने अक्सर देखा होगा कि कभी पैरों या टांगों में त्वचा के ऊपर मकड़ी के आकार की नीले रंग की उभरी हुई नसें दिखाई देती हैं। कभी यह पैरों या टांगों की अपेक्षा जांघों पर ज्यादा दिखाई देती हैं या फिर टखने के पास कभी ये नीली नसें पैरों या टांगों पर काफी बड़े आकार में हो जाती हैं।

कभी आपने गौर किया होगा आपके परिवार के सदस्यों की बांह पर नीली नसें ज्यादा मात्रा में उभरी हुई होंगी और साथ ही साथ हाथ में सूजन भी आती होगी। कभी आपने कुछ लोगों में विशेषत: छाती के ऊपरी हिस्से में और गर्दन के निचले हिस्से पर उभरी हुई नीली नसों का जमाव देखा होगा। कुछ लोगों में उभरी हुई केंचुएनुमा बड़े आकार की नसें पेट के एक तरफ हिस्से पर या दोनों तरफ देखी होंगी। ये गुच्छेनुमा उभरी हुई नीली नसों का जमाव चाहे छाती या गर्दन पर हो, चाहे बांह या पेट पर हो, चाहे जांघों या फिर पैरों या टांगों पर हों, उसको सामान्य न समझकर गंभीरता से लें अन्यथा लापरवाही के कारण इसके परिणाम भुगतने पड़ सकते हैं।

ये असामान्य तरीके से त्वचा पर दिखने वाली उभरी हुई नीली नसें शरीर के अंदर विभिन्न रोगों की ओर इशारा करती हैं। अत: शरीर के किसी भी अंग पर उभरी हुई नीली नसों को गंभीरता से लें और तुरंत किसी वैस्कुलर सर्जन से परामर्श लें।

क्यों दिखती है ये नसें?

ये उभरी हुई नसें शरीर के ऊपरी सतह पर स्थित शिराओं यानी वेन्स का जाल है, जो सामान्य परिस्‍थितियों में त्वचा पर ज्यादा उभार नहीं लेती हैं और शरीर के अंदर स्थित मोटी-मोटी शिराओं वाले सिस्टम से जुड़ी रहती हैं। ऊपरी सतह में स्थित शिराओं का जाल ऊपरी सतह से अशुद्ध खून को इकट्ठा कर शरीर की गहराई में स्थित बड़ी शिराओं के सिस्टम में पहुंचाता है, जहां से सारा अशुद्ध खून इकट्ठा होकर दिल से होते हुए फेफड़े में शुद्धिकरण के लिए पहुंचता है।

अगर किसी वजह से शरीर के अंदर गहराई में स्‍थित मोटी शिराओं के सिस्टम में रुकावट आ जाती है तो ये बाहरी सतह से आने वाले खून को स्वीकार नहीं कर पाता है जिससे अशुद्ध बजाय अंदर जाने के खाल के अंदरुनी सतह में समाहित रहता है जिससे खाल के नीचे स्थि‍त शिराओं के सिस्टम में अशुद्ध खून की मात्रा ज्यादा होने से ये नीली नसें खाल के ऊपर उभरकर बड़ी मात्रा में दिखाई देने लगती है।

उभरी हुई नसों का कारण :

अगर आपके शरीर में बांह या हाथ पर उभरी हुई नीली नसें अचानक दिखने लगी हों और बराबर हों तो इसका कारण हाथों से अशुद्ध खून इकट्ठा करने वाली वेन यानी शिरा में या तो खून के कतरे स्थायी रूप से जमा हो गए हैं या फिर गर्दन या कंधे के पास स्‍थित कोई ट्यूमर या कैंसर की गांठ उस पर बाहर से दबाव डाल रही है। कभी-कभी गर्दन या कंधे के पास स्थि‍त कैंसर वाले ट्यूमर की सिंकाई के दौरान भी सूजन के साथ नीली नसों के उभरने की आशंका हो सकती है.

उभरी हुई नसों का दिखना :

अगर आपकी जांघ में मकड़ी के जाले की तरह जगह-जगह नीली नसें उभरी हुई दिख रही हैं तो इसको सामान्य न समझें। इसको किसी वैस्क्युलर या कार्डियो वैस्क्युलर सर्जन को दिखाकर उनकी सलाह जरूर लें। इस तरह की उभरी हुई नीली नसों के दो कारण होते हैं- एक कारण क्रोनिक वीनस इन्सफीशियन्सी यानी सीवाआई का रोग है जिसमें वेन के अंदर स्थित कपाट यानी दरवाजे कमजोर पड़ जाते हैं।

सामान्यत: इन शिराओं में स्थित कपाट अशुद्ध खून को एक ही दिशा में ऊपर चढ़ाने की अनुमति देते हैं जिससे टांगों में अशुद्ध खून की ज्यादा मात्रा इकट्ठा न हो पाए। ऊपर चढ़ा हुआ खून अगर वापस आने की कोशिश करता है तो ये कपाट आपस में बंद हो जाते हैं जिससे खून नीचे वापस नहीं आ पाता है। जब ये कपाट किन्हीं कारणों से बंद हो जाते हैं या इनकी संरचना में कोई गंभीर परिवर्तन हो जाता है तो ऊपर चढ़ने वाले खून का कुछ या ज्यादा हिस्सा इन कपाटों के कमजोर होने की वजह से ऊपर जाकर फिर ‍नीचे की ओर आ जाता है। ये वापस आने की क्रिया निरंतर दोहराए जाने पर अशुद्ध खून खाल के नीचे स्थित शिराओं में इकट्ठा होना शुरू हो जाता है जिससे खाल पर नीली नसों का उभार दिखने लगता है।

ये शिराओं में स्थित कपाट लोगों में प्रतिदिन नियमित न चलना व व्यायाम का अभाव होने से कमजोर पड़ जाते हैं और अपना कार्य सुचारु रूप से नहीं कर पाते। कपाटों की संरचना में परिवर्तन नसों में खून के कतरे कुछ समय के लिए इकट्ठा होने की वजह से आंशिक रूप से नष्ट हो जाते हैं जिससे वे आपस में ठीक से बंद नहीं हो पाते जिससे ऊपर चढ़ा हुआ अशुद्ध खून नीचे आना शुरू हो जाता है और खाल के नीचे उभरी हुई नस दिखने लगती है।

एप्पल साइडर सिरका :

इसके इलावा एप्पल साइडर सिरका इस में काफी हद तक लाभकारी हो सकता है एप्पल साइडर सिरके से हल्की की मालिश करनी चाहिए और दो दो चम्मच दिन में दो बार लेना चाहिए पानी में डालकर एसिडिटी के मरीजों को एप्पल साइडर सिरके का प्रयोग नहीं करना चाहिए अगर करना भी जरुरी हो तो एसिडिटी की दवाइयां साथ में लेते रहे

Natural Ways to Get Rid of Varicose Veins

मूली का रस :

सर्दियों में तीखी मूली का रस निकाल कर उसमें आटा भिगोकर रोटी बनाइए रोटी मोटी मोटी हो। फिर उस रोटी को और मूली का रस ले कर उसमें डाल कर चूरमें की तरह से कर लें जो चुरमा बने उसे वेरिकोस वैनस पर लगा कर ऊपर से कपड़ा बाँध कर रात भर रखें सवेरे उतारे ऐसा एक महीने तक करने से बहुत लाभ मिलता है। थोड़ी खुजली हो तो समझे के आप की बीमारी ठीक हो रही है पर खुजलाये ना।

Share this post

scroll to top