खेल

Ind vs Aus: सिडनी में काली पट्टी बांधकर उतरी दोनों टीमें, जानिए क्यों

Image result for सिडनी में IND-AUS के खिलाड़ियों ने बांधी काली पट्टी, जानिए क्यों?

सिडनी: भारत और कंगारुओं  के बीच खेले जा रहे चार टेस्ट मैचों की सीरीज के आखिरी मुकाबले में सिडनी टेस्ट मैच के पहले दिन दोनों टीमें काली पट्टी बांधकर मैदान पर उतरी। भारत और ऑस्ट्रेलिया की टीमें एक खास वजह से इस काली पट्टी को पहनकर मैदान पर उतरी। भारतीय खिलाड़ियों ने यह पट्टी दिवंगत क्रिकेट कोच रमाकांत आचरेकर को श्रद्धांजलि के तौर पर बांधी है। इसके अलावा आस्ट्रेलिया के खिलाड़ियों ने अपने पूर्व बल्लेबाज बिल वॉट्सन की याद में काले रंग का बैंड पहना हुआ है।

भारतीय क्रिकेट को सचिन तेंदुलकर जैसा नायाब बल्लेबाज देने वाले कोच आचरेकर का बुधवार को निधन हो गया था। वो 87 वर्ष के थे। आचरेकर पिछले कई सालों से बीमार चल रहे थे। आचरेकर ने सचिन के अलावा भारत को विनोद कांबली, चंद्रकांत पंडित, प्रवीण आमरे, अजीत आगरकर, रमेश पोवार, बलविंदर सिंह संधू और समीर दीघे जैसे कई क्रिकेटर्स दिए।

भारतीय क्रिकेट को सचिन तेंदुलकर जैसा नायाब बल्लेबाज देने वाले कोच आचरेकर का बुधवार को निधन हो गया था। वो 87 वर्ष के थे। आचरेकर पिछले कई सालों से बीमार चल रहे थे। आचरेकर ने सचिन के अलावा भारत को विनोद कांबली, चंद्रकांत पंडित, प्रवीण आमरे, अजीत आगरकर, रमेश पोवार, बलविंदर सिंह संधू और समीर दीघे जैसे कई क्रिकेटर्स दिए।

सचिन ने अपने बचपन के कोच आचरेकर के निधन पर शोक व्यक्त करते हुए कहा, ‘स्वर्ग में उनकी मौजूदगी से क्रिकेट और समृद्ध हो जाएगा। कई छात्रों की तरह मैंने भी आचरेकर सर से क्रिकेट का ककहरा सीखा। मेरे जीवन में उनके योगदान को शब्दों के दायरे में नहीं बांधा जा सकता। पिछले महीने मैं सर के कई अन्य शिष्यों के साथ मिला था और हमने एक साथ वक्त गुजारा था। हम सभी ने पुराने दिनों को याद करते हुए जमकर ठहाके लगाए थे।’

सचिन ने आगे कहा, आचरेकर सर ने हमें सीधे बल्ले से खेलने के साथ-साथ सीधी तरह जीवन जीने की सीख दी थी। हमें अपने जीवन का हिस्सा बनाने और अपने चिंग मैनुअल से हमें समृद्ध बनाने के लिए धन्यवाद। वेल प्लेड सर, आप जहां भी हैं, वहां और सिखाते रहें।’

 

Back to top button