1 करोड़ की नौकरी छोड़ चौधराइन आ गईं हिंदुस्तान, इस सीट से हैं बीजेपी उम्मीदवार

0
62

हरियाणा में चुनावी सरगर्मियां जोरों पर हैं. पार्टियों ने जहां पुराने दिग्गज नेताओं पर भरोसा जताया है तो वहीं कई ऐसे उम्मीदवारों को भी टिकट दिया है जो राजनीति में नए हैं. सत्ता में रही भाजपा ने कई चौंकाने वाले नामों को चुनावी मैदान में उतारा है. इनमें से एक नाम बड़ी चर्चा में है और वह नाम है कुमारी नौक्षम चौधरी.

नौक्षम को भाजपा ने मेवात के पुन्हाना विधानसभा क्षेत्र से टिकट लेकर सभी को चौंका दिया है. ऐसा इसलिए क्योंकि एक ही महीने पहले तक नौक्षम का नाम कहीं से भी चर्चा में नहीं था. खास बात यह है कि वर्तमान विधायक का टिकट काटकर भाजपा ने उन्हें अपना उम्मीदवार बनाया है.

मेवात की ही रहने वाली नौक्षम चौधरी दिल्ली विश्वविद्यालय के मिरांडा हाउस से इतिहास में स्नातक और स्नातकोत्तर हैं. उन्होंने इटली के मिकहामाना जाता है कि नौक्षम लंदन में करोड़ो की नौकरी छोड़कर चुनाव लड़ने के लिए अपने पैतृक गांव वापस लौट आई हैं. हालांकि नौक्षम को राजनीति का चस्का मिरांडा हाउस कॉलेज में ही लग गया था जहां वह छात्रसंघ की नेता रहीं थी.

करोड़ो की नौकरी छोड़ मेवात वापस लौटने पर उन्होंने कहा कि दशकों से यहां कि स्थिति जस की तस बनी हुई है. मुझे यह महसूस करने में समय नहीं लगा कि सिस्टम का हिस्सा बनने से ही इसे बदला जा सकता है. शिक्षा और रोजगार  के क्षेत्र में यहा बहुत कुछ करने की जरूरत है. खराब सड़कें, शिक्षा की कमी और बुनियादी सुविधाएं उनके एजेंडे में सबसे ऊपर हैं.

बता दें कि नौक्षम के पिता आरएस चौधरी रिटायर्ड जज है जबकि मां रंजीत कौर हरियाणा सरकार में उच्च पद पर कार्यरत हैं.