दुष्यंत के ‘दगे’ से तेज बहादुर नाराज, पार्टी छोड़ते हुए बोले बहुत बड़ी बात

0
46

हरियाणा में भाजपा और जननायक जनता पार्टी गठबंधन कर सरकार बनाने जा रही है. इस बीच पूर्व बीएसएफ जवान तेज बहादुर यादव ने दुष्यंत चौटाला पर गंभीर आरोप लगाये हैं और उनकी पार्टी को बीजेपी की बी टीम कहा है. बता दें कि तेज बहादुर जेजेपी की टिकट पर करनाल विधानसभा सीट से मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर के खिलाफ खड़े हुए थे.

तेज बहादुर यादव ने एक वीडियो जारी कर कहा कि भाजपा को हरियाणा की जनता ने नकार दिया था. बीजेपी को निर्दलीय विधायकों ने अपना समर्थन दे दिया था, लेकिन दुष्यंत चौटाला ने खुद जाकर उनको समर्थन दे दिया. ये हरियाणा की जनता के साथ धोखा है. मैं जेजेपा में था, अब इस्तीफा दे रहा हूं. मैं अपने समर्थकों से कहता हूं कि वो जेजेपा का विरोध करें.

उन्होंने कहा कि, मुझे लगा था कि जेजेपी भाजपा की बी टीम है. उन्होंने साबित भी कर दिया. करनाल में जेजेपी कार्यकर्ताओं ने मेरे खिलाफ वोट डलवाए. मेरा पार्टी से किसी ने प्रचार भी नहीं किया. मैं चार दिन झांसी की जेल में बंद रहा. तब किसी ने जानने की कोशिश नहीं कि हमारा उम्मीदवार कहा है. ये हरियाणा के साथ धोख है, हम आंदोलन करेंगे.

आपको याद होगा कि तेज बहादुर ने लोकसभा चुनाव में पीएम नरेंद्र मोदी के खिलाफ वाराणसी संसदीय सीट से नामांकन दाखिल किया था. सपा ने उन्हें अपना कैंडिडेट बनाया था. हालांकि चुनाव अधिकारी ने उनका नामांकन खारिज कर दिया. जिसके खिलाफ वह कोर्ट भी गए थे.

गौरतलब है कि तेज बहादुर ने बीएसएफ में तैनात रहते हुए खराब खाने का आरोप लगाते हुए एक वीडियो वायरल किया था. बीएसएफ ने इसके बाद मामले की जांच कराई थी और बहादुर को अनुशासनहीनता के आरोप में बर्खास्त कर दिया.