जरा हट के

इस लड़की को लेटर लिखते हैं खुद अमिताभ, जानिए क्यों है ये इतनी खास

अक्सर शारीरिक कमी होने पर व्यक्ति को समाज में हीन भावना की नजर से देखा जाता है, जोकि ईश्वर का अपमान है। जी हां, इंसान को बनाने वाला ईश्वर ही है, ऐसे में जब लोग शारीरिक कमी से जूझते हुए व्यक्ति पर हंसते हैं, तो वह ईश्वर पर हंसते हैं, लेकिन यहां हम एक ऐसी लड़की की कहानी बताने जा रहे हैं, जिसने अपने सपने को शारीरिक कमी की बलि नहीं चढ़ने दी और आज वह सोशल मीडिया की स्टार बन गई है। इतना ही नहीं, इस लड़की को सदी के महानायक अमिताभ बच्चन खुद पत्र लिखते हैं। तो चलिए जानते हैं कि हमारे इस लेख में आपके लिए क्या खास है?

गुजरात के राजकोट की रहने वाली इस लड़की का नाम वंदना है, जोकि दिव्यांग है, लेकिन समाज में अपनी भागीदारी फिट लोगों की तरह ही दे रही है। गुजरात के राजकोट के एक जिले की रहने वाली वंदना अमिताभ बच्चन की बहुत बड़ी फैन है, जिसकी वजह से वे लगातार उन्हें खत लिखती हैं। वंदना के खत का जवाब खुद बच्चन परिवार देता है। इतना ही नहीं, अमिताभ बच्चन खुद ही वंदना को समय समय पर खत लिखते रहते हैं, क्योंकि वे खुद उसके कामकाज से काफी ज्यादा प्रभावित हैं।

वंदना का 80 फीसदी शरीर काम नहीं करता

वंदना का 80 फीसदी शरीर काम नहीं करता है, लेकिन वह फिर भी काम करती है। वंदना राजकोट ज‍िले के जेतपुर में एक फोटोकॉपी की दुकान चलाती है, जिससे अपना घर चलाती है और किसी के ऊपर निर्भर नहीं रहती है। वंदना अपने पैरो से कंप्यूटर चलाती है और ग्राहकों को फोटोकॉपी करके देती है। बता दें कि वंदना अपने पैरों से मोबाइल, टीवी, लैपटॉप और जेरॉक्स मशीन आसानी से चला लेती है, लेकिन कोई समस्या आती है, तो उसकी मां उसमें मदद करती है। साथ ही बता दें कि वंदना ने बीकॉम तक की पढ़ाई की है।

मां ने दिया हौसलों को उड़ान

वंदना आज जो कुछ भी है, उसके पीछे उसकी मां का हाथ है। वंदना की मां ने उसका हमेशा साथ दिया और उन्हीं की मदद से आज वंदना जीने के लिए किसी और पर निर्भर नहीं है, बल्कि फोटोकॉपी की दुकान से अपने परिवार की भी जिम्मेदारी उठाती हैं। वंदना के लिए समाज में अपनी पहचान बना पाना आसान नहीं था, लेकिन जब जब वह कमजोर पड़ी, तब तब उसकी मां ने उसके हौसलों को उड़ान दिया, जिसकी मदद से आज वह अपनी ज़िंदगी आसानी से जी रही है।

अमिताभ बच्चन की बड़ी फैन है वंदना

वंदना की मां कहती है कि उनकी बेटी अमिताभ बच्चन की बहुत बड़ी फैन है, जिसकी वजह से वह उन्हें खत लिखती है और उधर से जवाब भी आता है। इतना ही नहीं, खुद अमिताभ बच्चन वंदना का हाल चाल पूछते रहते हैं। वंदना ने एक दिन अमिताभ बच्चन से मिलने के लिए घंटो धूप मेंं बिताए और बाद में बेहोश हो गई। वंदना की मां कहती हैं कि उनकी बेटी मरने से पहले एक बार अमिताभ बच्चन से मिलना चाहती है, क्योंकि वह बहुत बड़ी फैन है। बता दें कि वंदना ने अमिताभ बच्चन की मार्केंट में मिलने वाली तमाम चीज़ों को संभाल कर रखा है।

Back to top button