महाराष्ट्र में किसकी है इतनी हिम्मत, जो गुंडागर्दी से तोड़े शिवसेना के विधायक ?

0
83

महाराष्ट्र में मुख्यमंत्री पद को लेकर रार के बीच शिवसेना सांसद संजय राऊत ने नाम लिए बगैर भाजपा पर पार्टी के विधायकों को तोड़ने का आरोप लगाया है. रविवार को राऊत ने कहा कि सरकारी मशीनरी शिवसेना के विधायकों से संपर्क करने के लिए गुंडों का इस्तेमाल कर रही है. कुछ गुंडे हैं जो जेल से छूटकर राजनीति में बड़े-बड़े पदों पर बैठे हैं उन्हें राज्य सरकार का आशीर्वाद मिला है. इन गुंडों ने पिछले 10 दिनों में शिवसेना के विधायकों पर दबाव डालने की बहुत कोशिश की. लेकिन महाराष्ट्र में ये गुंडागर्दी तक नहीं चली और सभी गुंडे बिल में घुस गए.

बकौल राउत, ये गुंडे किसके पास जा रहे थे और क्या बातचीत कर रहे थे. इसकी जानकारी मेरे पास आ गई है जल्द ही मैं इसका खुलासा करूंगा. राऊत ने कहा कि ऐसी गंदी राजनीति तो गुंडों की टोली भी नहीं करती. इस तरह की राजनीति महाराष्ट्र को शोभा नहीं देती.

इसके जवाब में भाजपा की ओर से प्रदेश के जलसंसाधन मंत्री गिरीश महाजन ने नाशिक में कहा कि राऊत को गुंडों के इस्तेमाल के बारे में सबूत देना चाहिए. राऊत को ऐसे बयानों से बचना चाहिए जिससे युति में तनाव पैदा हो.

वहीं राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी नेता नवाब मलिक ने कहा कि राऊत ने जो कहा है वो सत्य है. भाजपा ने विधानसभा चुनाव में गुंडों और बेहिसाब पैसों का इस्तेमाल करके ही 105 सीटें हासिल की है.