राजनीति

कन्हैया के खिलाफ लड़ने से कतराए गिरिराज, बेगूसराय से उतरने से किया इनकार

एनडीए के सीट बंटवारे से नाराज बीजेपी के वरिष्ठ नेता और केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह ने बेगूसराय सीट से चुनाव लड़ने से इनकार कर दिया है। उन्होंने बिहार बीजेपी के प्रभारी भूपेंद्र यादव और पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष नित्यानंद राय को नवादा सीट बदलने के लिए दोषी ठहराया है। सूत्रों के मुताबिक, गिरिराज सिंह को बीजेपी के पांच बड़े नेताओं ने मनाने की कोशिश की लेकिन उनकी कोशिशें नाकाम रहीं।

नवादा से सांसद हैं गिरिराज सिंह
दरअसल बीजेपी ने गिरिराज सिंह को बिहार के बेगूसराय से उम्मीदवार बनाया है। सीपीआई ने उनसे मुकाबले के लिए कन्हैया कुमार को मैदान में उतारा है। गिरिराज सिंहनवादा से सांसद हैं। एनडीए (बीजेपी, जेडीयू और एलजेपी) में सीट बंटवारों के बाद नवादा की सीट एलजेपी के पास है। बीजेपी ने गिरिराज सिंह को बेगूसराय से उम्मीदवार बनाया है। उम्मीदवारों के नामों के ऐलान के बाद से ही गिरिराज सिंह नाराज हैं। उन्होंने पहले ही साफ कह दिया था कि वह सिर्फ नवादा सीट से ही लोकसभा चुनाव लड़ेंगे।

गिरिराज सिंह नाराजगी के कारण दिल्ली में डेरा जमाये हुए हैं। गिरिराज सिंह का कहना है, किसी भी केंद्रीय मंत्री की सीट नहीं बदली गयी, तो पार्टी उनके साथ ऐसा क्‍यों कर रही है। उनका कहना है, पार्टी को ऐसा करना था तो पहले उन्हें विश्‍वास में लेना चाहिए था।

इससे पहले रविवार को कन्हैया कुमार ने कहा था, उनकी मुख्य लड़ाई गिरिराज सिंह से है, न कि आरजेडी (महागठबंधन) से। बता दें कि गिरिराज सिंह कन्हैया कुमार को देशद्रोही के रूप में प्रचारित करते रहे हैं।

Back to top button