मेट्रो में सफर करने वाले सावधान, आप भी हो सकते हैं इन शातिरों के शिकार

0
49

अगर आप मेट्रो में सफर करते हैं और मेट्रो में अंदर जाने से पहले अगर कुछ लोग आपके साथ धक्का-मुक्की करने लगे तो सावधान हो जाइये. वरना आप भी मेट्रो व रेलवे में जेबतराशी करने वाले बदमाशों का शिकार हो सकते हैं. मेट्रो पुलिस ने पांच ऐसे बदमाशों को गिरफ्तार किया है जो मेट्रो में जाने से पहले अपने शिकार के साथ धक्का-मुक्की करते थे. इस दौरान वे लोगों के सामान पर हाथ साफ कर दिया करते थे. सीसीटीवी फुटेज की मदद से पुलिस ने पांच आरोपितों को गिरफ्तार किया है.

मेट्रो डीसीपी विक्रम कुमार ने बताया कि सुभाष प्लेस मेट्रो स्टेशन पर 18 नवम्बर को अतुल कुमार ने शिकायत दर्ज कराई थी कि वह तीस हजारी मेट्रो से मेट्रो में सवार हुए थे. उनके जेब में दो लाख रुपये थे लेकिन इंद्रलोक मेट्रो स्टेशन जाने से पहले उन्हें अहसास हुआ कि उनके जेब से पैसे निकल गए हैं. उन्होंने ऑनलाइन एफआईआर दर्ज कराई. पीड़ित की शिकायत पर जांच शुरू की गई.

मेट्रो पुलिस ने मामले को सुलझाने के लिए पहले तीस हजारी मेट्रो स्टेशन के पास सीसीटीवी फुटेज देखा तो पता चला कि नौ संदिग्ध व्यक्तियों को पीड़ित के पास खड़े थे. वह लोग मेट्रो के अंदर पहले पीड़ित को घेर लिया और दो लोग तभी जेब से पैसे निकाल रहे हैं. पुलिस ने फुटेज की मदद से पहले गिरोह के सरगना सोनू उर्फ डॉक्टर को शास्त्री पार्क मेट्रो स्टेशन के पास पकड़ा.

पूछताछ में उसने बताया कि इस घटना में उसके चार अन्य साथी झिलमिल, सोनी, अशोक और अनीश भी शामिल थे. पुलिस ने उसकी निशानदेही पर उन्हें भी पकड़ा गया. उन्होंने बताया कि सभी बेरोजगार हैं और शराब पीने की लत को पूरा करने के लिए वारदात को अंजाम देते हैं. सरगना सोनू पर पहले से 12 मामले दर्ज हैं. फिलहाल पुलिस उनके अन्य साथियों की तलाश कर रही है. ये लोग पिछले पांच साल से घटना को अंजाम दे रहे हैं.