ईट से कूचकर बाप-बेटो ने महिला को उतारा मौत के घाट, वजह है और भी खौफनाक

0
37
कानपुर । अनवरगंज थाना क्षेत्र में सोमवार देर रात मां की हत्या में फरार चल रहे हत्यारोपित बेटे को पुलिस ने मंगलवार को गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस की माने तो हत्यारोपित बेटे ने पिता से अलग रह रही मां की ईंट से कूचकर हत्या की वारदात को अंजाम दिया था। दो अन्य हत्यारोपितों की तलाश में पुलिस दबिश में है।
पुलिस अधीक्षक पूर्वी राजकुमार अग्रवाल ने मंगलवार को बताया कि अनवरगंज इलाके में स्थित देसी शराब ठेके के पास पूर्व पार्षद नफीसा बानो रहती है। इनकी बेटी सैला परवीन (34) की शादी शाकिर से हुई थी। दोनों के दो बेटे साकिब व अस्सलाम हैं। एक साथ पूर्व दोनों में आपसी अनबन के चलते तलाक हो गया जिसके बाद से सैला मां के पास आकर रहने लगी। सोमवार की अर्धरात्रि को अचानक सैला के घर से चीख-पुकार की आवाजें आने लगी। जिस पर पड़ोसी पहुंचे तो बाहर से ताला लगा हुआ था। शक के आधार पर क्षेत्रीय लोगों ने पुलिस को सूचना दी।
सूचना पर इंस्पेक्टर रमाकांत पचौरी पुलिस टीम के साथ पहुंचे। जहां उन्होंने ताला तोड़कर मकान में दाखिल हुए। अंदर कमरे में सैला का रक्तरंजित शव पड़ा हुआ था। सिर के पास ही खून से सने ईटें पड़ी हुई थी। हत्या की जानकारी मिलते ही इलाके में सनसनी फैल गई। पुलिस ने तुरंत फारेंसिक टीम की मद्द से घटना को लेकर साक्ष्य जुटाये और हत्यारों की तलाश में जुट गई थी।
पुलिस अधीक्षक पूर्वी ने बताया कि घटना की जांच में सामने आया कि मृतक महिला का अवैध संबंधों के चलते पति से तलाक हुआ था। तलाक के बाद पति शाकिर दोनों बेटों को लेकर दलेलपुरवा में रहता था। क्षेत्रीय लोगों के मुताबिक तीन लोग देर रात सैला के घर पहुंचे और उन्हीं ने हत्या की घटना को अंजाम दिया और फिर दूसरे दरवाजे से भाग निकले।
हत्या की घटना में फौरन पुलिस की टीमें उनकी तलाश में जुट गई। जिसमें एक बेटे को गम्मू खां के हाते से पुलिस ने घटना के एक घंटे बाद गिरफ्तार कर लिया। जबकि पिता व एक पुत्र अभी भी फरार है। जिनकी तलाश की जा रही है। पूछताछ में गिरफ्तार बेटे ने घटना से जुड़े सवालों के जवाब दिये हैं। अन्य दोनों आरोपितों के पकड़े जाने पर घटना का खुलासा हो सकेगा।