ख़बरदेश

पूर्व वित्त मंत्री अरुण जेटली की हालत बेहद नाजुक, डॉक्टरों की टीम ने बोली ये बात !

पूर्व वित्त मंत्री अरुण जेटली को लेकर बुरी खबर, 10 बजे एम्स पहुंचेंगे सभी मंत्री !

भारतीय जनता पार्टी(भाजपा) के वरिष्ठ नेता एवं पूर्व केंद्रीय मंत्री अरुण जेटली की हालत स्थिर लेकिन जटिल बनी हुई है। श्री जेटली सांस लेने में तकलीफ और बेचैनी बढ़ने पर गत नौ अगस्त से यहां अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान(एम्स) में भर्ती हैं। राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद, केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह, केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन और उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ शुक्रवार को एम्स पहुंचे और श्री जेटली के स्वास्थ्य के बारे में जानकारी ली। सूत्रों के मुताबिक डॉक्टरों की विशेषज्ञ टीम जेटली के स्वास्थ्य की निगरानी कर रही है।

जानकारी के किये बताते चले गृहमंत्री अमित शाह ने एम्स जाकर उनका स्वास्थ के सम्बन्ध में जानकारी ली,  सूत्रों के मुताबिक , सुबह 10 बजे सभी मंत्री जेटली को देखने दिल्ली के एम्स अस्पताल पहुंचेंगे. जेटली की तबीयत शुक्रवार देर शाम फिर बिगड़ गई है. उनके दिल और फेफड़े सही तरह से काम नहीं कर रहे हैं, इसीलिए उन्हें एकमो मशीन पर रखा गया है।

बताते चले  ईसीएमओ पर मरीज को तभी रखते हैं जब दिल, फेफड़े काम करना बंद कर देते हैं और वेंटीलेटर का भी फायदा नहीं होता। इससे मरीज के शरीर में ऑक्सीजन पहुंचाया जाता है। मालूम हो कि उन्हें संक्रमण ने चपेट में ले लिया है। शनिवार सुबह जेटली का हालचाल जानने राज्य मंत्री जितेंद्र सिंह एम्स पहुंचे। गृहमंत्री अमित शाह आज दोबारा जेटली का हाल जानने एम्स पहुंचे हैं। इसके साथ ही केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन भी पहुंचे हैं।

पीएम नरेंद्र मोदी, गृहमंत्री अमित शाह, लोकसभा स्पीकर ओम बिड़ला और भाजपा के अन्य शीर्ष नेताओं ने अस्पताल जाकर जेटली के स्वास्थ की जानकारी ली थी. आपको बता दें कि मई 2018 में उनका किडनी ट्रांसप्लांट किया गया था. उससे पहले वर्ष 2016 में उनकी बेरिएट्रिक सर्जरी (वजन घटाने के लिए पेट की चर्बी का आपरेशन) हुई थी. जेटली को डायबिटीज़ की भी समस्या है।

Back to top button