जेल में बंद विदेशी कैदियों की सुनिए डिमांड, चाहिए चिकन-मटन और दारू का ये ब्रांड

0
45

उत्तर प्रदेश के गौतमबुद्ध नगर जिले में पुलिस कप्तान वैभव कृष्ण के निर्देश पर पुलिस पिछले कई दिनों से ऑपरेशन की एक सीरीज चला रही है. जिसके तहत नियमों का उल्लंघन करने वालों पर कार्रवाई की जा रही है साथ ही वांछितों और वारंटियों की भी गिरफ्तारी की जा रही है. इसी सीरीज के तहत गौतमबुद्धनगर पुलिस ने पिछले दिनों ऑपरेशन क्लीन-10 चलाया था. जिसमे कई सेक्टरों में अवैध रूप से रह रहे विदेशियों पर शिकंजा कसते हुए 31 नाइजीरियाई मूल के लोगों को अवैध तरीके से रहने के आरोप में गिरफ्तार भी किया था. इन लोगों को गिरफ्तार करने के बाद जेल तो भेज दिया गया लेकिन इनकी ऊलजलूल डिमांडों ने पुलिस की नाक में दम कर दिया है.

जेल जाने के बाद इन विदेशी नागरिकों ने अपनी मांगों से जेल प्रशासन की हालत खराब करके रख दी है. बताया जा रहा है कि जेल में बंद विदेशी कैदी चिकन-मटन और वोडका की डिमांड करते हैं. इतना ही नहीं मीडिया रिपोर्ट्स में अफ्रीकी कैदी अपनी मांगों को लेकर हंगामा भी कर चुके हैं. वहीं जेल में बंद अफ्रीकी कैदियों की उल-जुलूल मांगों की वजह से जेल प्रशासन ने भी एक तरकीब ढूँढ निकाली है.

दरअसल रोज-रोज के हंगामे को देखते हुए जेल प्रशासन ने उन्हें पुरानी बैरक से अब दूसरी बैरक में ट्रांसफर कर दिया है. जेल प्रशासन अफ्रीकी कैदियों के व्यवहार से त्रस्त हो कर जल्दी से जल्दी उनको उनके देश भेजने की कोशिश में भी लग गया है. जेल प्रशासन को ये भी डर है कि अफ्रीकी कैदियों की देखा-देखी दूसरे कैदी भी हंगामा न करने लग जाएं.

गौरतलब है कि पिछले दिनों नोएडा के विभिन्न सेक्टरों से पुलिस ने 50 से ज्यादा विदेशी नागरिकों को हिरासत में लिया था. दरअसल इन विदेशियों ने अपना पासपोर्ट और वीजा दिखाने में असमर्थता जाहिर की थी. इन्हीं में से एक महिला के पास से गांजा और बड़ी मात्रा में बीयर और शराब की बोतलें भी बरामद हुई थीं. वहीं 20 के करीब विदेशी नागरिक तो नोएडा पुलिसकर्मियों के साथ हाथापाई कर फरार भी हो गए थे. बाद में नोएडा पुलिस ने 31 विदेशियों को मुहिम चला कर गिरफ्तार कर जिला जेल भेज दिया था. अब जेल में बंद यही कैदी कैदी मटन-चिकन और शराब की मांग कर रहे हैं.