तीर्थनगरी बन गई अय्याशी की राजधानी, हर वक्त चलती हैं रेव पार्टी

144

जयपुर , आज के समय में   विश्व प्रसिद्ध तीर्थ स्थल पुष्‍कर अब अपनी पहचान खोता जा रहा है। पहले आस्था के नाम से झुकने वाले सिर अब दिखाई देते है। पुष्कर मे तीर्थ स्थल की आड़ मे शर्मनाक हरकते करते हुए दिखना आम बाता है। इससे भारत की पूरी दुनिया में छवि धूमिल हो रही है। बता दें कि समस्त भारत मे एक मात्र ब्रम्हा जी का मंदिर पुष्‍कर में है जिसके चलते देश के सभी लोग इसे तीर्थ मानते है।

लेकिन पुलिस-प्रशासन की लापरवाही से यहां पर शराब की नदियां बह रही हैं। पुलिस ने हाल ही में निकटवर्ती गोवलिया गांव के एक फार्म हाउस में छापा मारकर रेव पार्टी करते विदेशी लोगों को गिरफ्तार किया है। मौके पर पुलिस को देखकर विदेश पर्यटक इधर उधऱ भागने लगे। लेकिन सभी को गिरफ्तार कर लिया गया है। हालांकि पार्टी आयोजक मौके से फरार होनें में कामयाब हो गया। पुलिस ने मौंके से भारी मात्रा में शराब जप्त की है।

पुलिस के अनुसार 70-80 विदेशी पर्यटक नशे में धुत होकर डीजे की धुन पर थिरक रहे थे। इतना ही नहीं यहां पर विदेशियों को महंगा नशा भी परोसा जा रहा था। सूचना मिलते ही थाना अधिकारी नरेश शर्मा मय जाप्ता मौके पर पहुंचे औऱ नशेडियों को गिरफ्तार किया।

गौरतलब है कि सृष्टि के रचयिता ब्रह्मा जी की यज्ञस्थली पुष्कर अजमेर के नाग पहाड़ के बीच बसा हुआ है। तीर्थराज पुष्कर को सब तीर्थों से बड़ा माना जाता है। इसका शास्त्रों मे भी उल्लेख मिलता है। यहां पर लोग आस्था को चलते हर साल स्नान करने जाते है। लेकिन समय के साथ साथ पुष्कर राज तीर्थ अपनी पहचान खोता जा रहा है।