एलोवेरा पिएं लेकिन जरा हद में रहकर, ज्यादा सेवन से ज्यादा नुकसान

प्रक्रति में बहुत सी चीज़ें ऐसी होतें हैं जिनका सेवन हमारी सेहत के लिए फायदेमंद होता है. लेकिन उनके ज्यादा सेवन से कई तरह की समस्या भी होती है. उन्ही में से एक है एलोवेरा. एलोवेरा एंटी-ऑक्सीडे्ंट्स और विटामिन E से भरपूर होता है. पिछले कुछ समय से एलोवेरा जूस के सेवन का प्रचलन काफी बढ़ गया है. एलोवेरा एक पौधा होता है जिसका तना मोटा होने के साथ उसकी पत्तियां कांटेदार होती हैं.

Advertisement

इसके तने में एलोवेरा जैल भरा हुआ होता है जिसका इस्तेमाल कई बीमारियों से निजात दिलाने में किया जाता है. इम्यून सिस्टम को स्वस्थ रखने के लिए एलोवेरा का जूस काफी लाभप्रद होता है लेकिन क्या आप जानते हैं कि एलोवेरा के जूस के कई दुष्प्रभाव भी हो सकते हैं. आइए जानते हैं कि एलोवेरा जूस के क्या-क्या हानिकारक दुष्प्रभाव हो सकते हैं.

advt

 

ब्लड शुगर को कम करता है

एलोवेरा ब्लड शुगर के लेवल को कम करता है. इसलिए हाइपोग्लाइसीमिया रोग से ग्रस्त लोगों को इसका सेवन नहीं करना चाहिए. ब्लड शुगर को रेगुलेट करने के लिए जो लोग इंसुलिन का इस्तेमाल करते हैं, उन लोगों को भी एलोवेरा का जूस का सेवन सावधानी पूर्वक करना चाहिए.

दिल की बीमारियों से पीड़ित लोगों के लिए हानिकारक

एलोवेरा जूस आपके शरीर में अत्यधिक मात्रा में एड्रेनालाइन पैदा करता है जो कि दिल की बीमारियों से ग्रस्त लोगों के लिए हानिकारक हो सकता है. इससे पोटेशियम का स्तर कम हो जाता है जिससे दिल की धड़कन कम होना और मसल्स का कमजोर हो जाना जैसी समस्याएं होने लगती हैं.

स्तनपान कराने वाली महिलाओं के लिए हानिकारक

स्तनपान कराने वाली महिलाओं के लिए भी एलोवेरा का जूस हानिकारक होता है क्योंकि इसका सेवन करने से यह दूध के माध्यम से शिशु के शरीर में जाता है और शिशु को डायरिया हो सकता है. साथ ही इसके रेचक(Laxative) गुण भी माता और शिशु के लिए हानिकारक होते हैं.