आखिरकार चुनाव आयोग ने लिया एक्शन, योगी और मायावती के प्रचार करने पर लगाई पाबंदी

0
25

सुप्रीम कोर्ट की फटकार के तीन घंटे बाद चुनाव आयोग ने हेट स्पीच और सांप्रदायिक बयानबाजी करने के मामले में उत्तर प्रदेश के सीएम योगी आदित्य नाथ और मायावती पर बैन लगा दिया है. आयोग से मिली जानकारी के मुताबिक, योगी आदित्य नाथ पर 72 घंटे और मायावती पर 48 घंटे का बैन लगाया है. इस बैन के बाद योगी और मायावती 16 अप्रैल 6 बजे से चुनावी प्रचार नहीं कर सकेंगे.

इस दौरान योगी आदित्यनाथ और मायावती ना ही कोई रैली को संबोधित कर पाएंगे, ना ही सोशल मीडिया का इस्तेमाल कर पाएंगे और ना ही किसी को इंटरव्यू दे पाएंगे. चुनाव आयोग के फैसले से साफ है कि योगी आदित्यनाथ 16, 17 और 18 अप्रैल को कोई प्रचार नहीं कर पाएंगे. इसके अलावा मायावती 16 और 17 अप्रैल को कोई चुनाव प्रचार नहीं कर पाएंगी.

इससे पहले सोमवार सुबह को हेट स्पीच मामले पर सुनवाई  करते हुए सुप्रीम कोर्ट ने चुनाव आयोग के सामने अपनी नाराजगी व्यक्त करते हुए कोर्ट ने फटकार लगाई थी और पूछा था कि क्या आपको अपनी शक्ति के बारे में पता है? इसी फटकार के बाद चुनाव आयोग ने यह बड़ा कदम उठाया है.

चुनाव आयोग ने हेट स्पीच मामले में उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और पूर्व मुख्यमंत्री मायावती को नोटिस जारी किया था. इस नोटिस के बाद योगी आदित्य नाथ ने तो अपना जवाब चुनाव आयोग के समक्ष दाखिल कर दिया था लेकिन मायावती ने अभी तक अपना जवाब दाखिल नहीं किया है.