पुराना सूटकेस खरीदे बुजुर्ग और उसमें निकले 30 लाख, लेकिन लालच तो..

0
80

अमेरिका में 50 साल के एक व्यक्ति ने ईमानदारी की मिसाल पेश की। उसने एक पुराने सूटकेस में मिले 30 लाख 54 हजार रुपए ( 43170 डॉलर) उसके मालिक को लौटा दिए। दरअसल,  सेंट्रल मिशिगन के रहने वाले हॉबर्ड किर्बी ने पिछले दिनों एक सेकंड हैंड शॉपिंग सेंटर से पुराना सूटकेस खरीदा था। कुछ दिन पहले उनकी बेटी ने जब इसे खोला तो उसमें पैसा मिला।

इतना पैसा देखकर उनका परिवार असमंजस में पड़ गया। पहले उन्हें समझ नहीं आया कि इस पैसे का क्या करें?  किर्बी के दिमाग में भी कई विचार आए। वह सोच में पड़ गए। सोचा इस पैसे से घर का कर्ज चुका सकता हूं। रिटायरमेंट लेकर अच्छी जिंदगी गुजार सकता हूं। उन्होंने अपने वकील से भी सलाह ली। उसने भी पैसा अपने पास रखने को कहा और दावा किया कि आपके खिलाफ कोई कानूनी कार्रवाई नहीं कर सकता।

किर्बी ने इस रकम को असली मालिक तक पहुंचाने का फैसला किया। उनके इस सुझाव का उनकी एक रिश्तेदार ने भी समर्थन किया। किर्बी ने सोचा यदि ऐसी ही रकम मेरी गुम हो जाती तो मैं क्या करता। उन्होंने शॉपिंग सेंटर के मैनेजर को नोटों से भरा सूटकेस लौटा दिया।

खोजबीन से पता चला यह सूटकेस न्यूबेरी के एक परिवार का है। परिवार ने पिता के निधन के बाद उनके सूटकेस को बिना खोले ही उनके अन्य सामानों के साथ एक सेकंड हैंड शॉपिंग सेंटर को दान कर दिया। यह सेंटर जरूरतमंदों को सस्ती दरों पर जरूरी चीजें उपलब्ध कराता है।

इस बारे में स्टोर मैनेजर रिक मर्लिंग ने किर्बी की तारीफ की। उन्होंने कहा, किर्बी ने ईमानदारी का उदाहरण प्रस्तुत किया है। यह मेरी भी जिम्मेदारी थी कि रकम असली मालिक तक पहुंचाई जाए।