जरा हट के

मंडप में दुल्हन को पता चली दूल्हे की ये आदत, बोली- पूरी उम्र कुंवारी रहूंगा लेकिन..

शादी किसी भी व्यक्ति के जीवन का सबसे बड़ा बदलाव होता हैं. खासतौर पर लड़कियों की जिन्दगी में तो इसका बहुत बड़ा असर पड़ता हैं. एक लड़की शादी के बाद अपना घर बार छोड़ ससुराल जाती हैं. ऐसे में वो उम्मीद करती हैं कि उसका होने वाला पति और ससुराल के लोग अच्छे और सभ्य हो. लेकिन कई बार अरेंज मेरिज में हम लड़के की ठीक से परख नहीं कर पाते हैं जिसके चलते शादी के बाद लड़की को पछताना पड़ता हैं. लेकिन उत्तर प्रदेश के अकबरपुर में हो रही एक शादी में लड़की की किस्मत अच्छी रही जो उए शादी वाले दिन ही दुल्हे और उसके घर वालो की एक गंदी आदत का पता चल गया. इसके बाद लड़की ने सोचा कि यदि वो आज शादी कर लेती हैं तो उसे जिंदगीभर इन जैसे लोगो को झेलना होगा. बस फिर क्या था लड़की ने ना सिर्फ अपनी शादी रुकवा दी बल्कि दुल्हा और उसके पिता को जेल तक भिजवा दिया. आइए विस्तार से जाने क्या था पूरा मामला…

दरअसल बिहार के नालंदा जिले में पुलिस के पद पर पोस्टेड उदय रजक नाम के शख्स का विवाह अकबरपुर में रहने वाली अनुषा के साथ तय हुआ था. फिर उदय बरात लेकर अकबरपुर आ पहुंचा. इस दौरान दुल्हा उदय और उसके साथआए बाराती दारु पीकर खूब गाली गलोच कर रहे थे. यहाँ डीजे की धून पर नाचने को लेकर लड़का और लड़की पक्ष में लड़ाई भी हो गई. इस लड़ाई में दुल्हे के पिता राजकिशोर सहित उसके मामा और नाना घायल हो गए. इसके बाद मामला जैसे तैसे कर के शांत हुआ और जयमाला के कार्यक्रम के लिए दूल्हा दुल्हन को स्टेज पर ले जाया गया.

यहाँ स्टेज पर भी दुल्हा और उसके साथ आए बारातियों के पैर लड़खड़ा रहे थे. दुल्हे के मुंह से शराब की बदबू भी आ रही थी. ये नजारा देख दुल्हन अनुषा ने सोचा कि यदि आज मैं चुप रही और कुछ ना किया तो जीवनभर पछताना पड़ेगा. ऐसे व्यक्ति से शादी करने से तो अच्छा हैं मैं जिंदगीभर कुँवारी ही रह जाऊं. बस फिर क्या था अनुषा ने बिना किसी को बताए धीरे से पुलिस को फोन लगा दिया और उहे सारी जानकारी दे दी. साथ ही दुल्हन ने बोला कि जब पुलिस का जवान ही दारू पिने की आदत से ग्रसित हैं तो वो लोगो कोऐसा करने से कैसे रोकेगा. इसके कुछ देर बाद पुलिस मौके पर आई और दूल्हा उदय और उसके पिता राजकिशोर को उठाकर जेल ले गई.

उधर जेल में बंद होने के कुछ देर बाद जब दुल्हे का नशा उतरा तो उसे अपनी गलती का एहसास हुआ और वो पुलिस से हतः जोड़ माफ़ी मांगने लगा. बोला मुझ से गलती हो गई, जाने दो. लेकिन पुलिस ने उसकी नहीं सुनी.

अनुषा की समझदारी की वजह से आज उसकी जिंदगी बर्बाद होने से बच गई. यदि वो सही समय पर कोई निर्णय नहीं लेती तो शायद आगे भी उसे कई सारी यातनाएं झेलनी पड़ती. इसलिए आप जब भी अपनी बेटी की शादी करे तो लड़के के बेकग्राउंड की पूरी तरह से जांच कर ले.

Back to top button