हलवाई ने खाना पकाया नहीं और दावत में ले आया पूरा परिवार, गुस्से में ले ली गई जान

0
140

राजस्थान के भीलवाड़ा जिले में बेहद मामूली बात को लेकर एक हत्या कर दी गई. दरअसल मंगलवार देर रात जिले के बागोर थाना क्षेत्र के चांदरास ग्राम पंचायत के खारोलिया खेड़ा में एक भोजन कार्यक्रम में हुए विवाद के बाद घर जाकर पीटने से एक शख्स की मौत हो गई. पुलिस ने मारपीट करने वाले चार आरोपियों को हिरासत में ले लिया है.

बागोर थाना अधिकारी खिवराज गुर्जर ने बताया चांदरास पंचायत के खारोलिया खेड़ा गांव में राजू मेरासी के यहां मंगलवार रात को नवरात्रि पर खाना रखा था. इसको बनाने के लिए खारोलिया खेड़ा निवासी ओमप्रकाश नायक सहित चार पांच जनों को बुलाया था. यह भोजन सगस बावजी के स्थान पर बनाया था. भोजन बनाने के बाद इस भोज में काठिया खेड़ा उर्फ लालरी निवासी कैलाश नायक अपनी पत्नी और बच्चों के साथ भी शामिल हुआ.

भोजन बनाने में साथ नहीं देने व परिवार के साथ आ जाने से नाराज अन्य साथियों ने उसके साथ मौके पर ही लड़ाई झगड़ा किया. जिस पर कैलाश नायक भोजन की थाली को लात मार कर लालरी स्थित अपने घर आ गया. पीछे से अन्य साथियों ओम प्रकाश नायक, दिनेश नायक, मोहनलाल नायक, व प्रकाश नायक ने हम सलाह होकर कैलाश नायक के घर पर जाकर मारपीट की. बीच-बचाव करने आए उसके भाई उदयलाल के साथ भी मारपीट की. जिस पर कैलाश की पत्नी सुगना के चिल्लाने पर ग्रामीण बीच-बचाव करने आए व मारपीट करने वाले चारों युवकों को पकड़ लिया.

बागोर पुलिस ने मौके पर पहुंच कर त्वरित कार्रवाई करते हुए चारों युवकों को पकड़ कर थाने लाई. उधर घायल कैलाश नायक को बागोर अस्पताल ले जाने पर डॉक्टर ने उसे मृत घोषित कर दिया. बागोर पुलिस ने चारों युवकों को हिरासत में ले कर अग्रिम कार्रवाई शुरू कर दी.