कोलकाता की काली कंपनी : 182 महिलाओं के मिले अश्लील MMS, सबको किया जाता ब्लैकमेल

0
206

पश्चिम बंगाल की राजधानी कोलकाता में हैरान कर देने वाली एक घटना सामने आई है। प्रेम का जाल फैलाकर लड़कियों को फंसाने, शारीरिक संबंध बनाकर अश्लील वीडियो बनाने तथा फिर उन्हें ब्लैकमेल करने की सनसनीखेज वारदात सामने आई है। करीब 6 साल से यह सेक्स ब्लैकमेल रैकेट चल रहा था। एक युवती से 10 लाख रुपए मांगने के बाद इस रैकेट का कोलकाता पुलिस ने खुलासा किया। दो बड़े उद्योगपतियों के बेटों समेत तीन जने को रैकेट चलाने के आरोप में गिरफ्तार किया गया है। इन पर आरोप है कि ये अलग-अलग महिलाओं से संबंध बनाकर उसकी रिकॉर्डिंग कर लेते थे और फिर उसी क्लिप के जरिए ब्लैकमेल कर महिलाओं से पैसे ऐंठते थे।

पुलिस ने बताया कि आरोपियों के कब्जे से 182 महिलाओं की सेक्स क्लिप्स बरामद हुई हैं। तीन महीने तक चली जांच के बाद पुलिस ने नामी कपड़ा व्यापारी के पुत्र आदित्य अग्रवाल और मशहूर होटल मालिक के पुत्र अनीश लोहारुका को दबोचा। दोनों की उम्र 20 साल के आसपास ही है। साथ ही इनके नौकर कैलाश यादव को भी गिरफ्तार किया गया है। तीनों आरोपियों को 4 फरवरी तक पुलिस हिरासत में भेजा गया है। एक महिला ने इन पर ब्लैकमेल करने और 10 लाख रुपये मांगने का आरोप लगाया था।

पुलिस ने अनीश का एक लैपटॉप भी जब्त किया है। एक अधिकारी के मुताबिक, अनीश के लैपटॉप में 182 फोल्डर मिले। हर एक फोल्डर में एक महिला के साथ सेक्स क्लिप है। पुलिस के मुताबिक, लैपटॉप में बरामद क्लिप्स साल 2013 की लगती हैं। लैपटॉप को फॉरेंसिक जांच के लिए भेजा गया है।

पुलिस ने बताया कि ये लोग महिलाओं से दोस्ती करते और उनके साथ शारीरिक संबंध बनाते थे। पिछले साल इन्होंने कैलाश को भी अपने साथ शामिल कर लिया, जो लोहारुका परिवार का घरेलू नौकर है। कैलाश को महिलाओं को धमकाने और फिरौती न देने पर वीडियो वायरल करने की धमकी देने के लिए रखा गया था।

जांच में शामिल एक पुलिस अधिकारी ने बताया कि दोनों मुख्य आरोपियों (आदित्य और अनीश) ने कबूल किया है कि ये लोग पहले अलग-अलग महिलाओं से दोस्ती करते और फिर उन्हें अलग-अलग जगहों पर बुलाते। यहां पहले से कई कैमरे लगे होते थे, जिसमें इनके निजी पलों को रिकॉर्ड कर लिया जाता था। इन्होंने पिछले करीब एक साल से महिलाओं से फिरौती मांगने का धंधा शुरू किया। इन्होंने एक लड़की से 5 लाख रुपए फिरौती मांगी, जो उसने दे दी।

पुलिस ने बताया कि नौकर कैलाश यादव ने सारा सच उगल दिया। कैलाश और लड़की के बीच कई कॉल्स और वॉट्सऐप मेसेज को ट्रेस किया गया। पुलिस ने बताया कि शिकार कई महिलाएं हुई हैं इसलिए हर शिकायत की अलग-अलग जांच होगी। सभी पहलुओं पर गौर किया जाएगा। यदि कोई और आरोपी होगा तो उसे भी दबोचा जाएगा।