धर्म

धनवान बनना चाहते हैं और राह में आ रही रुकावटें, तो करें सिर्फ ये उपाय

आज के इस भौतिक युग में हर कोई धनवान बनना चाहता है धन प्राप्ति की कामना हर कोई करता है और उसे पाने के लिए हर संभव प्रयास करता है। क्या केवल धनवान बनने की इच्छा रखना काफी होता है, नहीं जी, उसके लिए प्रयास करना पड़ता है यह तो केवल प्रथम सीढ़ी है, धनवान बनने की राह की।

हम ये मानते है कि वक्त से पहले और किस्मत से ज्यादा इंसान को कुछ हासिल नहीं होता और जो भाग्य और किस्मत में है उसे कोई छीन नहीं सकता। ये तो केवल धार्मिक बातें है और जो लोग मेहनत करते है, उनके ही काम आती है ये कहावते। जो लोग मेहनती होते है उनके द्वार पर लक्ष्मी स्वयं दस्तक देती है।

धनवान बनने की राह में आने वाली अटकलों को कैसे दूर किया जा सकता है आइए जानते है

सुलेमानी हकीक धारण कर स्वयं के अंदर आत्मविश्वास जागृत करे

आत्मविश्वास के बिना तो छोटे –छोटे लक्ष्य को प्राप्त करना पहाड़ जैसा लगता है। इसलिए आज से ही स्वयं के अंदर आत्मविश्वास को जागृत करते हुए धनवान बनने की इच्छा शक्ति को और प्रबल बनाये। आत्मविश्वास में वृद्धि के लिए शीघ्र ही सुलेमानी हकीक से बना लॉकेट धारण करें, इससे आत्‍मविश्‍वास में बढ़ोत्तरी होती है।

ग्रहों की शांति करवाएँ 

कई बार मेहनत का फल न मिल पाने का मुख्य कारण कुंडली में स्थित अशुभ ग्रह होते है। एकसाथ नवग्रहों की शांति करने का एकमात्र उपाय है नवग्रह शांति कवच। इस नवग्रह शांति कवच में नौ ग्रहों के नौ रत्‍न जडित हैं। नवग्रहों के नवरत्‍नों से बना ये लॉकेट आपको सभी ग्रहों के अशुभ प्रभाव से बचाकर आपके जीवन को सुख और समृद्धि से भर देगा। इनका इस्तेमाल ग्रहों के दुष्प्रभाव को कम करने व उनके सकारात्मक फल को प्राप्त करने के लिए किया जाता है। इनको पूजने से शुभ फल प्राप्त होता है और आर्थिक संकट दूर होता है।

धन के नुकसान से बचे

कई बार हम बिना सोचे समझे धन का दुरूपयोग करते है या ऐसी जगह धन लगाते है, जहाँ नुकसान के अलावा कुछ हासिल नहीं होता, ऐसी स्थिति उत्पन्न न हो, इसलिए यदि कोई व्‍यक्‍ति राहू का रत्‍न गोमेद और केतू के रत्‍न लहसुनिया को एकसाथ धारण कर ले तो उसे कोई भी आर्थिक संकट छू भी नहीं सकता है। राहू और केतु के संगम से बने  भैरव लक्ष्मी लॉकेट को पहनने से आपकी बौद्धिक क्षमता का विकास होगा और आप अपने व्‍यापार के लिए सही निर्णय ले पाएंगें तथा धन का आगमन होगा।

कुबेर देव का पूजन करे

कुबेर एक हिन्दू पौराणिक पात्र हैं जो धन के स्वामी के  देवता माने जाते हैं। वे यक्षों के राजा भी हैं। वे उत्तर दिशा के दिक्पाल हैं और लोकपाल (संसार के रक्षक) भी हैं। यक्षों के राजा कुबेर को धन का अधिपति माना जाता है। पृथ्वीलोक की समस्त धन संपदा के भी एकमात्र वही स्वामी हैं। धन के अधिपति को पूज कर व मंत्र साधऩा करके आप भी कुबेर महाराज का आशीर्वाद प्राप्त कर सकते हैं। इनकी कृपा से धन प्राप्ति के योग बन जाते हैं। देवी महालक्ष्मी के साथ कुबेर महाराज को पूजने से जीवन में आर्थिक लाभ प्राप्त होता है। इसलिए कुबेर यंत्र की स्थापना और आराधना भी धन प्राप्ति का अच्छा उपाय है।

धन प्राप्ति के ज्योतिषिय उपाय

  • घर के उत्तर-पूर्व यानि ईशान कोण को साफ़ रखें वहां गन्दी वस्तुएं भूलकर भी न रखें।
  • अपने कुलदेवी-देवताओं की पूजा करे।
  • महालक्ष्मी अष्टकम का रोजाना जाप करें।ऐसा करने से धन प्राप्त होता है।
  • घर में सुख, शांति, समृद्धि बनाएं रखने के लिए रोजाना लक्ष्मी मंत्र का सुबह-सुबह जाप करें। इससे मां लक्ष्मी भी प्रसन्न हो जाती हैं व अपनी कृपा हम पर बरसाती हैं।
  • प्रत्येक शनिवार सुबह-सुबह पीपल के पेड़ के नीचे तेल का दीपक प्रज्वल्लित करें व अगरबत्ती आदि लगाये।
  • घर में जिस स्थान पर आप पैसे रखते है जैसे तिजोरी, अलमारी या बैग आदि में कौड़ी, हल्दी की गाँठ, तांबे या चाँदी के सिक्के आदि हमेशा रखे।
Back to top button