उत्तर प्रदेश

देवरिया जेल: सीसीटीवी की डिलीट फुटेज को रिकवर करने में जुटा साइबर सेल

Image result for देवरिया जेल: सीसीटीवी की डिलीट फुटेज को रिकवर करने में जुटा साइबर सेल

देवरिया । जिला कारागार के डिलीट फुटेज को रिकवर करने के लिए जांच टीम के निर्देश पर साइबर सेल जुटी हुई है। पुलिस और जिला प्रशासन को उम्मीद है कि आने वाले दिनों में डिलीट फुटेज को रिकवर कर लिया जाएगा जिससे घटना के बारे में हकीकत पता चल सकेगी। टीम के सदस्यों ने 26 दिसम्बर को जेल में मुलाकात करने आने वाले और सीटीटीवी फुटेज से उनकी मिलान की है। लखनऊ के कारोबारी मोहित जायसवाल को अतीक के गुर्गे लखनऊ से अपहरण कर 26 दिसम्बर को जिला कारागार लेकर आए थे।

जेल के अंदर तीन घंटे तक अतीक के गुर्गा सिद्दकी के साथ मोहित जिला कारागार की बैरक में रहा था। जिला कारागार में लगे सीसीटीवी कैमरे में यहां आने-जाने वालों का फुटेज रिकार्ड हुआ था जिसे जेल के कुछ कर्मचारियों ने डिलीट कर दिया था। डीएम अमित किशोर ने छापेमारी कर सीटीटीवी फुटेज के साथ छेड़छाड़ की बात कही थी। इसके बाद चार सदस्यों की टीम ने भी जांच की जिसमें फुटेज डिलीट करने की बात सामने आई है। इसे रिकवर करने के लिए टीम के सदस्यों ने एक्सपर्ट को बुलाया गया था लेकिन कोई कामयाबी नहीं मिली।

अब सर्विलांस सेल और साइबर सेल को डिलीट फुटेल को रिकवर करने की जिम्मेदारी मिली है। फुटेज सामने आने से जेल में आने-जाने वालों के साथ ही घटना के बारे में जानकारी हो जाएगी। सूत्रों की माने तो मोहित के साथ आया सिद्दकी ही भूमि के बैनामा का स्टाम्प लेकर कारागार आया था। सीसीटीवी फुटेज से उस दिन मुलाकात करने वाले लोगों के आधार कार्ड से मिलान किया जा रहा है जिससे जेल में आने वाले लोगों के बारे में जानकारी मिल सके।

Back to top button