देश

केजरीवाल सरकार के फैसले देख सोच रहे सभी- काश ! हम भी दिल्ली में रहते होते..

दिल्ली की अरविंद केजरीवाल सरकार ने चुनावी साल में एक और ऐसा ऐलान किया है, जिसके बाद देश के दूसरे हिस्सों में रह रहे लोग जरूर ये सोच रहे हों कि, काश हमारा घर दिल्ली में होता. दरअसल मुख्यमंत्री केजरीवाल ने गुरुवार को कहा कि 200 यूनिट तक बिजली इस्तेमाल कर रहे दिल्ली के उपभोक्ताओं को बिल के रूप में कोई भुगतान नहीं करना होगा.

मतलब ये कि 200 यूनिट तक बिजली इस्तेमाल कर रहे दिल्ली के उपभोक्ताओं को दिल्ली सरकार पूरी सब्सिडी देगी. 200 यूनिट तक बिजली इस्तेमाल करने वालों को कल तक 622 रुपये देने पड़ते थे, अब वो मुफ्त मिलेगी. इसके साथ में 201 से 401 यूनिट तक बिजली के इस्तेमाल पर भी सरकार 50 प्रतिशत सब्सिडी देती रहेगी.

बता दें कि केजरीवाल ने दिल्ली की सियासत में अपनी जगह बनाने के लिए पिछले चुनाव में ‘पानी माफ-बिजली हाफ’ का नारा दिया था. दिल्ली की जनता बिजली कटौती की किल्लत और बिजली के बिलों से परेशान थी. ऐसे में केजरीवाल के वादे पर दिल्ली की जनता ने भरोसा जताया और केजरीवाल ने मुख्यमंत्री बनते ही दिल्ली के हर परिवार को 700 लीटर रोजाना पानी मुफ्त देने का चुनावी वादा पूरा किया था.

इसके अलावा दिल्ली की डीटीसी और क्लस्टर बसों में केजरीवाल सरकार जल्द महिलाओं को फ्री यात्रा देने वाली है. इसके लिए सरकार का प्लान है कि वह प्रत्येक महिला यात्री पर 10 रुपये खर्च करेगी. यात्रा के दौरान महिलाओं को पिंक टोकन दिया जाएगा और जितने टोकन डीटीसी जमा करेगी सरकार प्रत्येक टोकन 10 रुपये देगी. जबकि मेट्रो में भी यही योजना लागू होनी है.

ये भी जान लीजिए कि दिल्ली की सीमा के अंदर अगर किसी का भी एक्सीडेंट या बर्न इंजरी होती है तो उसका तुरंत इलाज दिल्ली के किसी भी अस्पताल में मुफ्त होता है. ये भी केजरीवाल सरकार की ही स्कीम है.

 

Back to top button