यूपी में थम नहीं रही महिलाओं के साथ दरिंदगी, कानपुर में जज की भतीजी की दुष्कर्म के बाद हत्या

Advertisement

कानपुर। उत्तर प्रदेश के कानपुर के घाटमपुर के सजेती थाना क्षेत्र के कुटरा गांव में पूर्व ब्लाक प्रमुख रामकेश की बेटी अलंकृता (17) की शुक्रवार तड़के दुष्कर्म के बाद हत्या कर दी गयी। उसका शव घर के बाहर जानवर बांधने वाली जगह पर पड़ा मिला। मृतका के ताऊ यूपी के एक जिले में हैं जिला जज। पूर्व ब्लॉक प्रमुख की बेटी और जिला जज की भतीजी की दुष्कर्म के बाद हत्या की सूचना पर एसएसपी अखिलेश कुमार मीणा, एएसपी गौरव वंशवाल, फॉरेन्सिक टीम और कई थानों की फोर्स लेकर मौके पर पहुंचे।

फॉरेन्सिक टीम को मौके पर कई लोगों के जूते के निशान और तीन गर्भ निरोधक सामग्री मिली है, जिससे आशंका जतायी जा रही है कि अलंकृता के साथ गैंगरेप किया गया था। उसके मुंह से झाग निकलने और मौके पर कै (उल्टी) पड़े होने से जहर खिलाकर मारने की आशंका परिजनों ने जतायी है। पुलिस ने मृतका को टय़ूशन पढ़ाने आने वाले युवक को शक के आधार पर पूछताछ के लिए हिरासत में लिया है। मृतका के पिता ने अज्ञात लोगों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज करायी है। पुलिस ने शव पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है।

advt

 

सजेती के कुटरा गांव निवासी रामकेश पूर्व ब्लॉक प्रमुख हैं। उनके बड़े भाई जिला जज हैं। रामकेश के पांच बच्चों में सबसे बड़ी बेटी अलंकृता (17) क्षेत्र स्थित एक इंटर कॉलेज से बीएससी की छात्रा थी। शुक्रवार सुबह रामकेश खेत पर काम करने चले गये, घर में केवल बच्चे ही थे। सुबह जब बच्चों ने अलंकृता को नदारद पाया तो उसकी खोजबीन शुरू की। बच्चे जब घर के बाहर जानवर बांधने वाली जगह पर पहुंचे तो वहां का दृश्य देखकर उनके होश उड़ गये। वहां पर अलंकृता औंधे मुंह पड़ी थी, उसके कपड़े अस्त-व्यस्त थे और मुंह से झाग निकलकर सूख चुका था।

बच्चों के रोने-चीखने की आवाज सुनकर पहुंचे पड़ोसियों ने अलंकृता का शव पड़ा देख खेत पर गये रामकेश को जानकारी दी। मौके पर पहुंचे रामकेश ने बेटी की हालत देख उसके साथ रेप के बाद जहर देकर हत्या किये जाने की आशंका जताते हुए पुलिस को सूचना दी।पूर्व ब्लॉक प्रमुख की बेटी और जिला जज की भतीजी की हत्या की सूचना पर एसएसपी अखिलेश कुमार मीणा, एएसपी गौरव वंशवाल, एसपी ग्रामीण जेपी सिंह, सीओ घाटमपुर, कई थानों का फोर्स और फॉरेन्सिक टीम मौके पर पहुंच गयी।

फॉरेन्सिक टीम ने घटनास्थल का निरीक्षण किया तो वहां उसे कई लोगों के जूतों के निशान के साथ ही इस्तेमाल की हुई तीन गर्भ निरोधक सामग्री पड़ी मिली, जिसे टीम ने अपने कब्जे में ले लिया। मृतका के पिता ने बताया कि उनकी पत्नी रिश्तेदार के घर गयी है। सुबह वह नित्यक्रिया से निवृत्त होकर सीधे खेत चले जाते हैं, सर्दी के कारण वह बच्चों को जगाते नहीं है, इस कारण उन्हें अलंकृता के घर में न होने की जानकारी नहीं हो सकी।