Breaking News
Home / ख़बर / क्राइम / कपल चला रहा था सेक्स रैकेट, यूं तय होती विदेशी जिस्मों की कीमत

कपल चला रहा था सेक्स रैकेट, यूं तय होती विदेशी जिस्मों की कीमत

Image result for सेक्स रैकेट

पटना । राजधानी पटना में एक बड़े सेक्स रैकेट का खुलासा होने के बाद पुलिस ने पति-पत्नी समेत तीन लोगों को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है।  पुलिस इस रैकेट से जुड़े अन्य लोगों के बारे भी छानबीन कर रही है. इस मामले में कई बड़े लोग पुलिस के रडार पर हैं.

स्थानीय पुलिस ने सोमवार की रात पाटलिपुत्र के एक अपार्टमेंट में हाई प्रोफाइल सेक्स रैकेट का भंडाफोड़ किया था। पुलिस ने बताया कि पिछले कई माह से यह धंधा चल रहा था। यहां पर कई बड़े लोगों का भी आना-जाना लगा रहता था। यही कारण था कि रैकेट के भंडाफोड़ होने के बाद पुलिस पर पूरे मामले को रफादफा करने के लिए दबाव बनाया गया।

पटना: 5 साल से पति-पत्नी चला रहे थे सेक्स रैकेट, बुलाते थे विदेशी लड़कियां

मंगलवार को पुलिस ने इस मामले में एक महिला रानी थाप्पड़, सुनील और सुजीत को जेल भेज दिया है। सुजीत इससे पहले भी सेक्स रैकेट का धंधा चलाने के आरोप में जेल जा चुका है जबकि एक अन्य महिला को पुलिस ने छोड़ दिया।

पुलिस के अनुसार रानी से उक्त महिला की जेल में भेंट में हुई थी। जेल में ही रानी ने उस महिला को इस काम के संबंध में जानकारी दी थी। इसके बाद जेल से रिहा होने पर उसने रानी, सुजीत और सुनील के साथ मिलकर सेक्स रैकेट का अपना धंधा शुरू कर दिया। बताया गया कि पूरा कारोबार व्हाट्सअप पर चलता था। इसके साथ ही यह गिरोह प्ले बॉय पटना के नाम से अपना फेसबुक पेज भी चलाया करता था।
पुलिस के अनुसार पूरा धंधा कोड वर्ड के सहारे चलता था।

व्हाट्सअप पर ही लड़कियों का फोटो दिखाकर पैसा भी तय हुआ करता था। सूत्रों के अनुसार दो से चार हजार रुपये में लड़कियों की बुकिंग की जाती थी। यही नहीं, इस धंधे में काम करने वाली लड़कियों को संचालक की ओर से सैलरी दी जाती थी। पुलिस ने छापेमारी में व्हाट्सअप की पूरी चैटिंग को भी जब्त कर लिया है। पुलिस सूत्रों के अनुसार यह धंधा काफी हाई प्रोफाइल था। बताया जा रहा है कि कई बड़े लोग यहां आते थे।आरोपियों ने बताया कि ग्राहकों की डिमांड पर दिल्ली, कोलकाता और बांग्लादेश से भी लड़कियां बुलाई जाती थीं। पुलिस ने कुछ ही दिन पहले भी बोरिंग रोड इलाके के एक हॉस्टल में चल रहे सेक्स रैकेट का भंडाफोड़ किया था।

 

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com