फिर शुरू हुआ EVM पर संग्राम, खरा सवाल- खराब मशीन का वोट बीजेपी को ही क्यों?

इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीन को लेकर एक बार फिर संग्राम शुरू हो गया है. कांग्रेस और आम आदमी पार्टी ने एक बार फिर सवाल खड़े किये हैं. इस बार सवाल ये उठाया जा रहा है कि माना कि मशीन खराब हो सकती है लेकिन जब भी EVM खराब होती है वोट बीजेपी को ही क्यों जाता है.

Advertisement

कांग्रेस नेता अभिषेक मनु सिंघवी ने कहा कि EVM में दिक्कत को लेकर तमाम शिकायतें आ रही हैं. EVM के संबंध में जहां भी शिकायत आती हैं वहां सारे वोट भारतीय जनता पार्टी को ही क्यों जाते हैं? सिंघवी ने कहा कि EVM के लिए VVPAT काफी नहीं है.

advt

 

सुप्रीम कोर्ट की समिति करे जांच

अभिषक मनु सिंघवी ने कहा कि मध्य प्रदेश से लेकर कई जगहों पर शिकायत आ रही है वहां जो भी बटन दबाएंगे वो सारे वोट बीजेपी को ही जाते दिख रहे हैं. ऐसा क्यों हो जाता है कि जहां कहीं से भी EVM में छेड़छाड़ का मामला सामने आता है वहां वोट बीजेपी को ही जाता है. सिंघवी ने कहा कि लोकतंत्र की बुनियाद चुनाव पर आधारित है. इसलिए EVM पर मौजूद शंका और समस्याओं के लिए सुप्रीम कोर्ट के मौजूदा या फिर सेवा निवृत्त जजों की एक समिति बनाई जाए.

आम आदमी ने जारी किया वीडियो

वहीं आम आदमी पार्टी ने EVM का वीडियो जारी कर के दिखाया है. आप ने कहा है कि वीडियो से छेड़छाड़ हो रही है यह एक संवैधानिक मामला है. इसकी सघन जांच की जाए.

मामले की जांच जारी

वहीं इस मामले पर राज्य चुनाव आयुक्त एसके अग्रवाल ने कहा कि कुछ जगह मशीनों में तकनीकी ख़ामियां ज़रूर थीं जिन्हें तत्काल बदल दिया गया, लेकिन सत्ताधारी पार्टी को ही वोट जाने संबंधी शिकायतों के बारे में कानपुर और मेरठ के जिलाधिकारियों से रिपोर्ट मंगाई गई है. रिपोर्ट आने के बाद ही कोई कार्रवाई की जाएगी. उत्तर प्रदेश स्थित कानपुर के चकेरी क्षेत्र में नगर निकाय चुनाव को लेकर एक बड़ा आरोप लगाया गया है, यहां वॉर्ड 58 में वोटिंग करने पहुंचे मतदाताओं ने हंगामा काटा, मतदाताओं का आरोप है की ईवीएम में किसी भी पार्टी का बटन दबाने पर बीजेपी को वोट जा रहा हैं.

खराब EVM से जा रहे बीजेपी को वोट

चकेरी के तिवारीपुर वॉर्ड में बूथ 58 पर वोटिंग करके निकले मतदाताओं ने आरोप लगाया कि चाहे किसी भी पार्टी के पक्ष में वोट डालो वो सब बीजेपी में जा रहा है. विपक्षी पार्टी के लोगों को जब जानकारी हुई तो उन्होंने बूथ के बाहर हंगामा काटना शुरू कर दिया. लोगों का कहना है की चाहे पंजे का बटन दबाओ या साइकिल का, लेकिन बत्ती केवल कमल की जल रही है. जब कमल का बटन दबाया जा रहा है तब भी केवल कमल की बत्ती जल रही है. लोगों का कहना है की ये आम जनता के साथ धोखा किया जा रहा है.