उत्तर प्रदेश

योगी ने ले ली है सौगंध, अब यूपी नहीं होगा बदनाम, आकर रहेगा ‘राम-राज्य’

Image result for CM योगी रिश्वतखोरी

लखनऊ । उत्तर प्रदेश सरकार में इस समय तबादलों को दौर चल रहा है, जो 15 जुलाई तक चलेगा। जुलाई माह में ही लखनऊ मुख्यालय से लेकर जिलों में अधिकारियों के चेहरे बदले हुए नजर आएंगे। कार्यशैली में भी बदलाव के लिए हर दिन निर्देश दिए जा रहे हैं। हर विभाग के अधिकारियों की हर रोज समीक्षा और उसके कार्य के अनुसार तबादले की प्रक्रिया शुरू हो गई है। इसको लेकर कई मंत्री भी यहीं डटे हुए हैं और अपने-अपने विभाग की अधिकारियों की सूची तैयार कर सीएम को सौंप रहे हैं। सीएम उस पर विचार कर अंतिम मुहर लगाने का काम कर रहे हैं। इसको लेकर विभागों में हड़कंप मचा हुआ है।

कुछ अधिकारी मंत्रियों को फोन कर अपने सिफारिश में जुटे हैं तो कई को लखनऊ में आकर मंत्रियों से मिलकर अपने कार्य शैली के बारे में बताते हुए देखा जा रहा है। सीएम ने स्पष्ट निर्देश दिया है कि जनहित के किसी भी काम में लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जाएगी। अधिकारियों को लोगों की समस्याओं को सुनकर उसका त्वरित और गुणवत्तापूर्ण निदान करना होगा। जो नहीं करेगा, उसके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।

इन्हीं निर्देशों के बाद तबादलों का दौर भी शुरू हो गया। एक-एक बिंदू पर समीक्षा की जा रही है। इसके लिए सचिवालय में देर रात अधिकारी बैठ रहे हैं और रिपोर्ट कार्ड बनाकर सीएम को भेजा जा रहा है, जिसके अनुसार निर्णय लिया जा रहा है। इसमें जिलों के प्रभारी मंत्रियों से भी मशविरा किया जा रहा है, जिससे वहां के संगठन और अधिकारियों की कार्यशैली का रिपोर्ट मिल सके, जिसके अनुसार आगे की कार्रवाई की जाएगी।

Back to top button