क्राइम

क्लासमेट का कांड : दोस्त के साथ किया दो बहनों का गैंगरेप, MMS बनाकर दी ऐसी धमकी

Image result for दो सगी बहनों के साथ गैंगरेप

ये इंसानियत को शर्मसार कर देने वाला मामला यूपी के जौनपुर से सामने आय है। यहाँ दो सगी बहनों से साथ सामूहिक बलात्कार की घटना से  पूरे इलाके में दहसत का माहौल है। जानकारी के मुताबिक बताते चले   पीड़ित छात्राओं का आरोप है कि उनके ही क्लास में पढ़ने वाले दो छात्रों ने प्रैक्टिकल की बुक वापस करने के बहाने उन्हें अपने घर बुलाया और फिर दोनों के बारी-बारी बलात्कार किया। इस दौरान आरोपियों ने उनका वीडियो भी बना लिया और घटना के बारे में किसी को बताने पर वीडियो वायरल करने की धमकी भी दी। पीड़ित छात्राओं ने अब मड़ियाहूं थानें में तहरीर देकर न्याय की गुहार लगाई है।

क्या है मामला

 

सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक, ये दिल दहला देने वाला मामला यूपी जौनपुर जिले के नेवढ़िया थाना क्षेत्र का है। जहाँ पीड़ित छात्राओं ने पुलिस को दी तहरीर में बताया कि वह एक कॉलेज में इंटर की छात्रा है। उनका आरोप है कि छात्राओं के साथ पढ़ाई करने वाले मड़ियाहूं थाना क्षेत्र के मईडीह गांव निवासी जितेंद्र शर्मा उर्फ प्रधान ने छात्राओं से उनकी प्रैक्टिकल बुक मांगी। इस पर छात्राओं ने उसे प्रैक्टिकल बुक दे दी। चार-पांच दिन बीत जाने पर जब प्रैक्टिकल बुक युवक द्वारा नहीं लौटाया गया तो छात्राओं ने उन्हें फोन किया। अब युवक को छात्राओं का फोन नंबर मिल गया तो वह उनसे बातचीत करने लगा। एक दिन वह दोनों बहनों को बहला-फुसलाकर नगर के मोहल्ला निवासी अपने दोस्त आकाश जायसवाल के घर ले गया। वहीं पर युवक ने अपने दोस्त के साथ मिलकर दोनों बहनों के साथ बलात्कार किया फिर उनका विडियो भी मोबाइल पर रिकॉर्ड किया।

 

ब्लैकमेल कर रहे थे आरोपी

 

पीड़ित छात्राओं ने आगे पुलिस को बताया की दोनों दरिंदो ने उनका अश्लील वीडियो बनाकर उन्हें ब्लैकमेल करना शुरू कर दिया। यही नहीं आरोपी छात्र ने उनसे  पैसे की मांग भी की। परेशान होकर छात्राओं ने मडियाहूं कोतवाली में बुधवार शाम को तहरीर देकर न्याय की गुहार लगाई। तहरीर के आधार पर पुलिस ने जितेंद्र शर्मा व नगर के मिर्दहा निवासी आकाश जायसवाल पुत्र महेंद्र जायसवाल के विरुद्ध दुराचार व पॉस्को एक्ट के तहत मुकदमा दर्ज कर दोनों छात्राओं को महिला पुलिस की अभिरक्षा में मेडिकल परीक्षण के लिए भेज दिया।

क्या कहा पुलिस ने

 

Back to top button