शादी-विवाह पर फिर से एक माह का ब्रेक , जानिए इस साल के विवाह मुर्हूत

शादी-विवाह पर फिर से एक माह का ब्रेक

शादी- विवाह जैसे शुभ कार्यों पर सात दिन बाद फिर से एक माह का ब्रेक लगने जा रहा है। यह ब्रेक इसलिए लगने जा रहा है, क्योंकि 14 मार्च से खरमास शुरू होगा। जो कि 14 अप्रैल तक रहेगा और खरमास में शुभ कार्यो का करना अशुभ माना जाता है। यही वजह है कि 14 मार्च से 14 अप्रैल तक शादी- विवाह जैसे शुभ कार्य नहीं होंगे।

मेष राशि में होगा सूर्य देव का प्रवेश

ज्योतिषाचार्य के मुताबिक जब भी सूर्य देव बृहस्पति की मीन राशि में गोचर करते हैं तो खरमास आरम्भ होता है। इस दौरान मांगलिक कार्यक्रम जैसे विवाह व सगाई करना निषेध माना गया है। इसलिए 14 मार्च से 14 अप्रैल लगभग एक माह तक शहनाई की गूंज सुनाई नहीं देगी। 18 अप्रैल को अक्षय तृतीया से मांगलिक कार्यक्रम की शुरूआत होगी। खरमास प्रत्येक वर्ष सूर्य देव के बृहस्पति की मीन राशि में गोचर के साथ प्रारम्भ होता है। ज्योतिषी ने बताया कि 14 मार्च को चैत्र कृष्ण पक्ष की द्वादशी श्रवण नक्षत्र से खरमास की शुरूआत हो रही है। इस कारण पूरे एक माह तक मांगलिक कार्यक्रम नहीं होंगे। 15 अप्रैल को सूर्य देव का मेष राशि में प्रवेश होगा। खरमास की समाप्ति होगी। खरमास की अवधि में विवाह एवं अन्य मांगलिक कार्य सम्पन्न नहीं हो पाते हैं। सूर्य देव ग्रहों के राजा एवं बृहस्पति को ग्रहों का गुरू माना जाता है।

18 अप्रेल से होंगे विवाह जब भी राजा और गुरु की युति होती है

तब ऐसी अवधि धार्मिक एवं आध्यात्मिक कार्यों की मानी जाती है। खरमास की समाप्ति के बाद पहला विवाह का मुहूर्त अक्षय तृतीया को रहेगा। खरमास सदेव ही पूजन व कथा श्रवण के लिए महत्वपूर्ण माना जाता है। इस दौरान कथा श्रवण व पूजन करने से प्रभु की कृपा भक्तों को मिलती है। 18 अप्रैल को अक्षय तृतीया का पर्व मनाया जाएगा। इसके साथ ही मांगलिक कार्यक्रम की शुरूआत हो जाएगी। जो 13 मई तक चलेगी। इस वर्ष अधिक मास होने के कारण विवाह के मुहूर्त में अभाव रहेगा। 14 मई से 13 जून की अवधि अधिमास ज्येष्ठ की रहेगी। 14 जून से 16 जुलाई तक विवाह सम्पन्न होंगे।

इस साल ये हैं विवाह मुर्हूत

फरवरी – 7,10,12,13,18,19,20,23,24,25,28

मार्च – 2,3,5,7,8,10,12,13

अप्रैल- 18,19,20,24,25,26,27,28,29,30

मई – 1,2,3,4,5,6,7,11,12,13

जून- 14,18,20,21,23,25,28,29,30

जुलाई – 5,6,7,10,11,15

दिसम्बर- 8,10,11,12,15