Top News
दूसरा टी-20 : विंडीज का करारा पलटवार, टीम इंडिया को कायदे…साध्वी प्राची का गंदा बयान- बलात्कार के लिए जिम्मेदार है…दिल्ली अग्निकांड : जिसकी फैक्ट्री में घुटा 43 लोगों का…आधी रात बहू के बिस्तर में पकड़ा गया उसका आशिक,…उन्नाव के बाद एक और हैवानियत : 17 साल की…जानिए किस वजह से साउथ एक्ट्रेस ने छोड़ी शाहिद की…BB: अरहान का राज खुलने के बाद रश्मि की जिंदगी…दिल्ली अग्निकांड: 11 लोगों के लिए मसीहा बने फायरमैन राजेश,…तनाव के माहौल के बीच जलाई गई उन्नाव की ‘निर्भया’…महिलाएं अपने ऊपर हो रहे अत्याचारों पर चुप ना रहें,…जेल से जब बाहर आया छेड़खानी करने वाला, पीड़िता को…सावधान ! पत्नी के ये काम रोक सकते है आपकी…IND vs WI: आज होने वाले टी-20 पर मंडरा रहा खतरा,…घर में खाना बनाती पड़ोसन को देख चिंटू बना हैवान,…यात्रीगण ध्यान दें ! IRCTC पर ऐसे बुक करें टिकट,…ये पौधा है आपकी सेहत के लिए फायदेमंद, शरीर को…अगर आप भी अपने पर्स में रखते है ये चीजें…Ind vs WI: पूरे केरल को यही है उम्मीद- लोकल…योगी राज में जस के तस हालात, रेप पीड़िता ने…बीजेपी कार्यालय पर आधी रात अटैक, तलवारों से तोड़ डाले…रोहित, चहल और कोहली..सबके पास रिकॉर्ड बनाने का मौका, क्या…इवेंट में काम का नाम लेकर पहुंचा दिए होटल, 2…गर्भवती महिलाओ के लिए बेहद लाभदायक है ये तेल, जानिए…आपके किचन में छिपा हैं कुबेर का खजाना, इस पोस्ट…BB13: घरवालों पर जबरदस्त गुस्सा हुए दबंग खान, 6 से…Bigg Boss-13: पारस की प्रेमिका ने लीक की पर्सनल वॉट्सएप…रात में रैनबसेरे देखने निकले सीएम योगी, नप गए आपूर्ति…शादीशुदा हुई प्रेमी संग फरार, पति ने जब देखा कोर्ट…सावधान ! क्या आप भी काटते है अपने नाक के…क्या आपको भी सपने में दिखाई देता है सांप? तो…मर्दो के इस अंग को देखकर इम्प्रेस होती हैं लड़कियां,…जिसे पैदा किया उसी की लूटी अस्मत, फिर पाप छुपाने…उन्‍नाव गैंगरेप: भड़के परिजन, बोले-जब तक नहीं आयेंगे CM योगी,…छात्रा चिल्लाती रही, मदद मांगती रही लेकिन नाबालिग पर तो…दिल्ली में सबसे बड़ा अग्निकांड, जिन्दा जले 43 लोग, 56…WhatsApp मैसेज देख सन्न रह गई लड़की, स्क्रीन पर अश्लील…बीजेपी के पूर्व सांसद बोले- सरहद पार से भी रामलला…योगी खुद बनवा रहे जो विंध्य कॉरिडोर, उसके विरोध पर…चैंबर में साथियों संग रासलीला करतीं ये जज साहेबा, वकीलों…कलेजा चीर देने वाले मंजर की गवाह हैं ये आंखें,…विधवा को सुहागन बनाने का वादा किया डॉक्टर, बार-बार बनाएं…माता सीता का अपमान है अधीर रंजन का बयान, VHP…बागियों के थोक नामांकन से भाजपा को टेंशन, फुल स्पीड…सरहद पार से सेनाओं पर साइबर अटैक, इस खास बात…हैदराबाद एनकाउंटर : आरोपी की लाश लेने से गर्भवती पत्‍नी…यूपी में बेटियां जलाई जा रहीं सरेआम, भाजपा नेता के…इकोनॉमी पर आई एक और बुरी खबर, सरकार है कि…धोखा खाए फडणवीस बोले- अजित पवार ने बताई थी ऐसी…नवाजुद्दीन की छोटी बहन का निधन, इस खतरनाक बीमारी से…08 दिसम्बर राशिफल : मेष वालों को आज होगा धन…

Chandrayaan 2: आज अंतरिक्ष में भारत रचेगा इतिहास, जानिए मिशन-मून से जुड़ी हर खास बात

आज दोपहर करीब पौने तीन बडे इसरो के शक्तिशाली रॉकेट ‘बाहुबली’ पर सवार होकर चंद्रयान-2 अपने मिशन पर निकलेगा, जिसे देखने के लिए लोगों में खासा उत्साह है. अंतरकिक्ष में भारत के बड़े मिशन चंद्रयान-2 की लॉन्चिंग को लाइव देखने के लिए अब तक 7,134 लोगों ने ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन कराया है.

चंद्रयान-2 मिशन के तीन हिस्से

चंद्रयान-2 मिशन के तीन हिस्से हैं. पहला हिस्से का नाम ऑर्बिटर, दूसरा लैंडर (विक्रम) और तीसरा रोवर (प्रज्ञान) हैं. इस प्रोजेक्ट की लागत 978-1000 करोड़ रुपए के बीच है. स्वदेशी तकनीक से निर्मित चंद्रयान-2 में कुल 13 पेलोड हैं. आठ ऑर्बिटर में, तीन पेलोड लैंडर ‘विक्रम’ और दो पेलोड रोवर ‘प्रज्ञान’ में हैं. इसरो का लक्ष्य चंद्रयान 2 रोवर को लूनर साउथ पोल पर उतारना है, जहां अभी तक कोई देश नहीं पहुंचा है. वैसा चंद्रमा पर सॉफ्ट लैंडिंग कराने वाले देशों में अमेरिका, रूस और चीन शामिल है.

लॉन्चर

जीएसएलवी एमके- III चंद्रयान 2 को इसकी निर्धारित कक्षा में ले जाएगा. यह भारत का तीन चरणों वाला अब तक का सबसे शक्तिशाली लांचर है और यह 4 टन के उपग्रहों को जियोसिंक्रोनस ट्रांसफर ऑर्बिट (जीटीओ) में लॉन्च करने में सक्षम है. इसके कंपोनेंट में S200 सॉलिड रॉकेट बूस्टर, L110 लिक्विड स्टेज और C25 अपर स्टेज है.

ऑर्बिटर

लॉन्च के समय, चंद्रयान 2 ऑर्बिटर बयालू में भारतीय डीप स्पेस नेटवर्क (IDSN) के अलावा विक्रम लैंडर के साथ कम्यूनिकेट करने में सक्षम होगा. ऑर्बिटर की मिशन लाईफ एक वर्ष है और इसे 100X100 किलोमीटर लंबी चंद्र ध्रुवीय कक्षा में रखा जाएगा. इसका वजन 23,79 किलोग्राम है और विद्युत उत्पादन क्षमता 1,000 वॉट है.

लैंडर — विक्रम

चंद्रयान 2 के लैंडर का नाम भारतीय अंतरिक्ष कार्यक्रम के जनक डॉ. विक्रम ए साराभाई के नाम पर रखा गया है. यह चन्द्रमा के एक पूरे दिन काम करने के लिए विकसित किया गया है, जो पृथ्वी के लगभग 14 दिनों के बराबर है. विक्रम के पास बेंगलुरु के नज़दीक बयालू में आई डी एस एन के साथ-साथ ऑर्बिटर और रोवर के साथ कम्यूनिकेशन करने की क्षमता है. लैंडर को चंद्र सतह पर सफल लैंडिंग करने के लिए डिज़ाइन किया गया है. इसका वजन 1471 किलोग्राम है. और विद्युत उत्पादन क्षमता 650 वॉट है.

रोवर — प्रज्ञान

चंद्रयान 2 का रोवर, प्रज्ञान नाम का 6-पहिए वाला एक रोबोट वाहन है, जो संस्कृत में ‘ज्ञान’ शब्द से लिया गया है. यह 500 मीटर (½ आधा किलोमीटर) तक यात्रा कर सकता है और सौर ऊर्जा की मदद से काम करता है. यह सिर्फ लैंडर के साथ कम्यूनिकेशन कर सकता है. इसका वजन 27 किलोग्राम है और विद्युत उत्पादन क्षमता 50 वॉट है.

Share this post

scroll to top