Breaking News
Home / उत्तर प्रदेश / अखिलेश-मुलायम को जिस बात पर ‘भ्रष्ट’ बोलती थी बीजेपी, वो उन्होंने किया ही नहीं !

अखिलेश-मुलायम को जिस बात पर ‘भ्रष्ट’ बोलती थी बीजेपी, वो उन्होंने किया ही नहीं !

समाजवादी पार्टी के नेता मुलायम सिंह यादव और अखिलेश यादव को आय से अधिक संपत्ति के मामले में क्लीन चिट मिल गई है. केंद्रीय जांच ब्यूरो (CBI) ने मंगलवार को सुप्रीम कोर्ट में एक हलफनामा दाखिल कर क्लीन चिट दी है. हलफनामे में CBI ने कहा है, कि मुलायम सिंह और अखिलेश यादव के खिलाफ मामला दर्ज करने के लिए कोई सबूत नहीं मिले हैं.

मंगलवार को सुप्रीम कोर्ट में हलफनामा दाखिल कर जांच एजेंसी ने इसकी जानकारी दी है. CBI ने कहा, उसने 7 अगस्त 2013 को मामले की जांच बंद कर दी थी. उसे ऐसा कोई सबूत नहीं मिला, जिससे पिता-पुत्र के खिलाफ मामला दर्ज कराया जा सके.

बता दें कि अप्रैल में वकील विश्वनाथ चतुर्वेदी ने सुप्रीम कोर्ट में याचिका लगाई थी. जिसमें जांच की प्रगति के बारे में जानकारी मांगी गई थी. इस पर सुनवाई करते हुए सुप्रीम कोर्ट ने सीबीआई से जवाब मांगा था. शीर्ष अदालत ने 2007 में केस की जांच सीबीआई को सौंपी थी.

विश्वनाथ चतुर्वेदी ने 2005 में सुप्रीम कोर्ट में याचिका दाखिल कर मुलायम, उनके बेटे अखिलेश, बहू डिंपल यादव और छोटे बेटे प्रतीक के खिलाफ आय से अधिक संपत्ति का मामला दर्ज कराया था. आरोप है कि, मुलायम ने 1999 से 2005 तक उत्तरप्रदेश के मुख्यमंत्री रहते हुए 100 करोड़ से ज्यादा की संपत्ति जुटाई थी. इस साल फरवरी में चतुर्वेदी ने याचिका दायर कर कहा था, सीबीआई ने प्रारंभिक जांच में जरूरत से ज्यादा समय लगा दिया.

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com