तहखाने में चल रहा था कॉल सेंटर, बेच रहे थे कथित शक्तिवर्धक दवाएं, देखे VIDEO

0
67

लखनऊ । तालकटोरा पुलिस ने एक मकान के तहखाने में अवैध रुप से चल रहे काॅल सेंटर का भांडाफोड़ किया है। यहां पर चोरी छिपे कथित शक्तिवर्धक दवाएं बेचने का कारोबार किया जा रहा था। पुलिस ने काॅल सेंटर से 12 युवकों को गिरफ्तार किया है। जबकि कई लोग भाग गए। तहखाने से पुलिस को भारी मात्रा में लैपटॉप, फोन और अन्य इलेक्ट्रॉनिक डिवाइस बरामद हुए हैं।

एडीसीपी पश्चिम विकास चंद्र त्रिपाठी के मुताबिक, पकड़े गए युवक मुम्बई का रहने वाला मेहराम, फरहान शेख, शहबाज खाॅ, आशिफ शेख, परवेज, सैयद वाकर अब्बास, महमूद शेख, इकरामुल हुसैन, नीरज थापा और यामिन है। उनके दो साथी सोमिन्थ निवासी शिलांग, बैंगलोर का रहने वाला उम्र है। यह सभी राजाजीपुरम स्थित बाला जी मन्दिर के एक मकान में रहते थे। वहीं बेसमेंट में एक काॅल सेंटर चलाते थे। यह लोग शक्ति वर्धक दवाओं को बेचने के लिए ग्राहकों से इंटरनेट काॅल के माध्यम से ठगी करते थे। इस काॅल सेंटर का सरगना सांई सुन्दर सरोज राव है जो मुम्बई में बैठकर यह सेंटर चलवाता था।

एडीसीपी ने बताया कि अभियुक्तों के खिलाफ कार्रवाई कर जेल भेजा जा रहा है तथा इस कार्य में संलिप्त मुख्य सरगना की तलाश में टीम को मुम्बई भेजा गया है। जल्द ही उसे भी गिरफ्तार कर लिया जायेगा।