उत्तर प्रदेशख़बर

Twitter पर BSP सुप्रीमो ने किया बड़ा बदलाव, अब सुश्री नहीं रहीं मायावती..

बसपा सुप्रीमो मायावती (फाइल फोटो-PTI)

आगामी लोक सभा चुनाव के पहले सियासी माहौल गरमा गया है. सभी राजनीतिक पार्टियों ने अपनी कमर कस ली है. हाल में ही सपा-बासप गठबंधन के बाद यूपी में भाजपा के लिए एक बड़ी परेशानियो का दौर शुरू हो गया है. इस बीच कांग्रेस ने भी तीन राज्यों में जीत के बाद अब यूपी में आगमी लोक सभा में जीत हासिल करने के लिए अपनी बहन प्रियंका पर दांव लगाया है. बताते चले सोशल मीडिया के सहारे लोगों तक अपनी बात पहुंचाने वाली राजनीति पार्टियों की तरह ही बहुजन समाजवादी पार्टी की मुखिया मायावती भी इस प्लेटफॉर्म पर आ गई हैं। सोशल मीडिया पर उनकी एंट्री बाकायदा इस संबंध में प्रेसनोट के साथ हुई है। बता दे इस बीच मायावती ने ट्विटर पर एक बड़ा बदलाव किया है. \

सूत्रों के मुलाबित बसपा सुप्रीमो मायावती ने अपना ट्विटर हैंडल बदल दिया है. अब उनका ट्विटर हैंडल @sushrimayawati से बदलकर @mayawati हो गया है. इसकी पुष्टि खुद मायावती ने अपने इसी ऑफिशियल ट्विटर हैंडल से ट्वीट करके ही की. उन्होंने एक हफ्ते पहले यानी 6 फरवरी को ही अपना ट्विटर हैंडल बनाया था. अभी उनके ट्विटर पर करीब 84 हजार फॉलोवर हैं

बसपा चीफ मायावती आमतौर पर सार्वजनिक मंचों से दूर रहती हैं.

अभी तक वह अपनी बात कार्यकर्ताओं, जनता और मीडिया तक पहुंचाने के लिए प्रेसनोट जारी करती थी, लेकिन समय के साथ ही मायावती भी अपडेट हो गई हैं. अब वह भी बाकी दलों के नेताओं की ही तरह ट्विटर पर आ गई हैं. 6 फरवरी को ट्विटर हैंडल बनाने के बाद से ही मायावती अपने आधिकारिक बयान इसके जरिए ही जारी कर रही हैं. मायावती ने अबतक 35 ट्वीट किए हैं और वह किसी भी राजनेता या पार्टी को ट्विटर पर फॉलो नहीं करती हैं.

ट्विटर हैंडल में बदलाव के पीछे मायावती के नाम से बने तमाम पैरोडी अकाउंट जिम्मेदार बताए जा रहे हैं, क्योंकि जब भी कोई ट्विटर पर Mayawati सर्च करता था तो सबसे पहले उनके पैरो़डी अकाउंट ही दिखाई देते थे. जबकि उनका आधिकारिक अकाउंट sushrimayawati के नाम से होने के कारण लोगों को आसानी से नहीं मिल रहा था.

मायावती ने राफेल डील को लेकर बीजेपी पर निशाना साधा.

ट्विटर हैंडल बदलने से पहले बुधवार को ही मायावती ने राफेल डील को लेकर बीजेपी पर निशाना साधा. उन्होंने अपने ट्वीट में लिखा, ‘राफेल विमान सौदे पर बहु-प्रतीक्षित सीएजी रिपोर्ट जनता की नज़र में आधी अधूरी. यह न तो सम्पूर्ण और न ही पूरी तरह से सही. बीजेपी सरकार में क्यों संवैधानिक संस्थाएं अपना काम पूरी ईमानदारी से नहीं कर पा रही हैं? देश चिन्तित है.’

मायावती के बाद कांग्रेस की नवनियुक्त महासचिव और पूर्वी यूपी प्रभारी प्रियंका गांधी ने भी ट्विटर पर इंट्री की है. बीते सोमवार को लखनऊ में रोड शो से पहले ही प्रियंका गांधी वाड्रा ने अपना ट्विटर हैंडल @priyankagandhi बनाया था. दो दिन में ट्विटर पर प्रियंका को 1.89 लाख फॉलो करने लगे हैं, हालांकि अभी तक उन्होंने एक भी ट्वीट नहीं किया है.

Back to top button