उत्तर प्रदेश

बसपा नेताओं में हाथी से उतरने की होड़, रविवार को कई दिग्गज गए पार्टी छोड़

Image result for माया मोदी

लखनऊ लोकसभा चुनाव के दौरान नेताओं के दल बदलने की मची होड़ के बीच बहुजन समाज पार्टी (बसपा) के पूर्व प्रत्याशियों और नेताओं ने रविवार को भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की सदस्यता ग्रहण की।  केन्द्रीय मंत्री और प्रदेश प्रभारी जगत प्रकाश नड्डा के समक्ष बसपा और रामसेना के कार्यकर्ताओं ने बड़ी संख्या में भाजपा की सदस्यता ग्रहण की। बसपा के कैण्ट वाराणसी से पूर्व प्रत्याशी चन्द्र कुमार मिश्रा गुड्डू महाराज, जनरलगंज कानपुर से बसपा के पूर्व प्रत्याशी सर्वेश शुक्ला बमबम, पूर्व बसपा विधानसभा प्रत्याशी गोण्डा करनैलगंज से विक्रम वीर शुक्ला, पूर्व दर्जा प्राप्त मंत्री संजय शर्मा अलीगढ़ और बसपा भाईचारा समिति के जोनल पदाधिकारी शोभित मिश्रा तथा श्री रामसेना के अध्यक्ष सहारनपुर के विभोर राणा ने भाजपा की सदस्यता ग्रहण की। इसके साथ ही प्रदेश के 75 बसपा जिला भाईचारा समितियों के अध्यक्ष और पदाधिकारी भाजपा परिवार में शामिल हुए। इस मौके पर श्री नड्डा ने कहा कि अन्य दलों के पास न तो नेता है, न नीति है और न ही कार्यक्रम है और अब उनके पास कार्यकर्ता भी नहीं रह गये है। अधिकांश राजनीतिक दल मात्र पारिवारिक संगठन बनकर रह गये है और उनके थोड़े बहुत बचे हुए कार्यकर्ता उन्हें ढोने का काम कर रहे है। भाजपा एक मात्र कार्यकर्ता आधारित पार्टी है। जो कार्यकर्ताओं द्वारा ही संचालित होती है और कार्यकर्ताओं के द्वारा ही नेतृत्व प्रदान होता है।

Back to top button