Breaking News
Home / जिंदगी / जरा हट के / टल्ली दूल्हा आया लेकर बारात, दुल्हन हुई गुस्सा तो मेहमानों के सामने कर दिया ये काम

टल्ली दूल्हा आया लेकर बारात, दुल्हन हुई गुस्सा तो मेहमानों के सामने कर दिया ये काम

शादी ब्याह कोई बच्चों का खेल नहीं हैं. जब हम किसी व्यक्ति को अपना जीवनसाथी चुनते हैं तो बहुत सी बातों का ध्यान रखना पड़ता हैं. हमारे विचार, रहन सहन सामने वाले व्यक्ति से मेल खाना चाहिए. इसलिए शादी के पहले दोनों पक्ष एक दुसरे से इस विषय में क्लियर बात भी कर लेते हैं. लेकिन इसके बाद भी कुछ लोग जल्दी शादी करवाने के लिए अपने बेटे या बेटी के खोट को छिपाते हुए झूठ बोल जाते हैं. पर जैसा कि आप जानते हैं किसी भी झूठ की उम्र लम्बी नहीं होती हैं वो एक ना एक दिन पकड़ा ही जाता हैं. ऐसा ही एक बड़ा झूठ धनबाद जिले की रहने वाली एक दुल्हन को भी बोला गया था. उसे बताया गया था कि दूल्हा कोई भी नशा नहीं करता हैं. लेकिन जब शादी वाले दिन दूल्हा नशे में टल्ली दिखाई दिया तो दुल्हन को इतना गुस्सा आया कि उसने भरी शादी में सबके सामने एक हैरतअंगेज काम कर दिया. आइये विस्तार से जाने क्या हैं पूरा मामला…

दरअसल कुछ दिनों पहले आईएन चंद्रो नीचे धौड़ा की लक्ष्मी के साथ केंदुआ काठगोला मैदान निवासी जीतेंद्र भूईयां के बेटे रोहित की शादी तय हुई थी. शादी के पहले दुल्हन पक्ष को बताया गया था कि दूल्हा किसी भी प्रकार का कोई नशा नहीं करता हैं. बीते शुक्रवार दूल्हा केंदुआ काठगोला मैदान से कुसुंडा न्यू मैरिन आईएन चंद्रो नीचे धौड़ा में बड़ी धूमधाम से बरात लेकर पहुंचा. इस बरात में करीब 70 से 80 लोग शामिल थे.

इधर दुल्हन पक्ष इस शादी को लेकर काफी उत्साहित था. मंडप और घर को बड़े प्यार से सजाया गया था. दुल्हन भी अपनी शादी को लेकर काफी खुश थी. हलाकि जल्द ही उसकी ख़ुशी गायब हो गई. कारण था दुल्हे का नशे में फुल टल्ली होना. वो शादी के स्टेज पर भी लड़खड़ाते ही पहुंचा. इसके बाद जब मुंह से रुमाल छिनने की रस्म हुई तो दुल्हे के पास से व्हाइटनर (नशे का सामान) मिला. उस दौरान तो फिर भी बात टल गई लेकिन जब दुल्हे को रसगुल्ला खिलाया गया तो उसने नशे में होने का सबूत दे दिया. शक होने पर दुल्हन के परिजनों ने दबाव बनाया तो दुल्हे ने कबूला कि वो पिछले चार साल से नशा कर रहा हैं.

इसके बाद दुल्हन को बेहद गुस्सा आया और उसने भरी शादी में सभी मेहमानों के सामने ही दुल्हे से शादी करने से इंकार कर दिया. लड़की वालो ने एक स्थानीय पार्षद सावित्री देवी को बुलाया, जिन्होंने बाद में पुलिस थाने में दुल्हे वालो के खिलाफ पुटकी थाने में शिकायत दर्ज करवाई. लड़की वाली शादी में हुए खर्चा कि मांग करने लगे. इस पर जब दुल्हे का बाप खर्चे के पैसे देने को तैयार हुआ तो शिकायत वापस लेकर समझौता कर लिया गया.

बताते चले कि दुल्हन लक्ष्मी अनाथ हैं. उसके माता पिता इस दुनियां में नहीं हैं. वो अपनी बहन और जीजा के साथ रह रही थी. उसके जीजा सुदेश ही इस शादी का पूरा खर्च उठा रहे थे. सुदेश बहुत मामूली काम करते हैं. उन्होंने बड़ी मुश्किल से शाली की शादी के पैसे जुटाए थे. ऐसे में ये वाक्या हो जाने की वजह से दुल्हन पक्ष काफी दुखी हैं.

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com