पुलिस कांस्टेबल भर्ती लिखित परीक्षा में बड़े गिरोह का पर्दाफाश, सात मुन्नाभाई गिरफ्तार 

0
37

Image result for पुलिस कांस्टेबल भर्ती लिखित परीक्षा

कांगड़ा पुलिस ने पुलिस कांस्टेबल भर्ती की लिखित परीक्षा के दौरान एक बड़े गिरोह का पर्दाफाश किया है। यह गिरोह लिखित परीक्षा में नकल से पास कराने की गारंटी देकर परीक्षार्थियों से लाखों रुपए वसूल किए हैं। सीआईडी को इस गिरोह के बारे में पहले से ही जानकारी हाथ लगी थी जिसके आधार पर इन लोगों को गिरफतार करने में सफलता मिली है।
जिला कांगड़ा पुलिस में भर्ती के लिए आयोजित की जाने वाली लिखित परीक्षा रविवार को परौर स्थित राधा स्वामी सत्संग भवन में रखी गई थी। इसी दौरान परीक्षा के दौरान अन्य अभ्यर्थियों के स्थान पर परीक्षा देने की तैयारी कर रहे सात आरोपियों को गिरफ्तार किया गया। पकड़े गए सात आरोपियों में चार हरियाणा,  दो उत्तरप्रदेश जबकि एक कांगड़ा जिला के ज्वाली का रहने वाला है।
पकड़े गए आरोपियों से स्मार्ट चिप के अलावा इयर पीस भी बरामद हुए हैं। इन आरोपियों के खिलाफ भवारना पुलिस स्टेशन में मामला दर्ज किया गया है। पूरे प्रकरण की जांच में पुलिस जुट गई है।
वहीं पुलिस ने रविवार शाम को ज्वाली में गिरोह के सरगना कहे जाने वाले विक्रम सुपुत्र बंसी लाल के घर पर रेड डालकर लाखों का कैश बरामद किया है।
बता दें कि इस गिरोह पर पुलिस कांस्टेबल भर्ती की लिखित परीक्षा में नकल से पास कराने की गारंटी देकर हर परीक्षार्थी से लाखों रुपए वसूल करने का आरोप है। रविवार को जिला कांगड़ा में कांस्टेबल भर्ती के लिए ग्राउंड टेस्ट पास करने वाले अभ्यर्थियों की लिखित परीक्षा का आयोजन राधा स्वामी सत्संग भवन परौर में किया गया था।
हालांकि परीक्षा परिसर में किसी प्रकार का थैला, मोबाइल फोन, ब्लूटुथ, गणक यंत्र या स्मार्ट घड़ी ले जाने पर पूरी तरह से प्रतिबंध था। रविवार को परीक्षा से पूर्व कड़ी निगरानी के चलते चैकिंग के दौरान यह गिरोह पकड़ा गया।
सीआईडी यूनिट धर्मशाला को इस गिरोह के संबंध में पूर्व सूचना थी, जिसके चलते इन फर्जी अभ्यर्थियों को परीक्षा में बैठने से पूर्व ही गिरफ्तार कर लिया। गिरोह ने असली अभ्यर्थी के स्थान पर नकली अभ्यर्थी को परीक्षा देने के लिए बिठाया जाना था। जबकि मूल अभ्यर्थी घर में बैठा था और उसकी जगह दूसरा फर्जी अभ्यर्थी परीक्षा देने पहुंचा था।
उधर एसपी जिला कांगड़ा विमुक्त रंजन ने कहा कि कांस्टेबल भर्ती परीक्षा के दौरान रविवार को परौर से सात आरोपियों को गिरफ्तार किया गया है, जोकि अन्य अभ्यर्थियों के स्थान पर परीक्षा देने की तैयारी कर रहे थे। यह गिरोह अन्य राज्यों में भी फैला हुआ है। इस पूरे प्रकरण की जांच की जा रही है। इसमें कितने अभ्यार्थी संलिप्त थे, यह जांच के बाद ही कहा जा सकता है।
पकड़े गए सात आरोपियों में चार हरियाणा, दो उत्तर प्रदेश जबकि एक कांगड़ा के ज्वाली का रहने वाला है। पकड़े गए आरोपियों में अनुराग सुपुत्र पवन कुमार पुलिस थाना कलोनपुर जिला रोहतक हरियाणा, मनदीप सुपुत्र रोशन लाल पुलिस थाना कलयात जिला कलयात हरियाणा, मनदीप सुपुत्र रोशन लाल पुलिस थाना कलयात जिला कलयात हरियाणा, कुलदीप कुमार सुपुत्र रोशन लाल पुलिस थाना कलयात जिला कलयात हरियाणा, प्रशांत सुपुत्र शिव कुमार पुलिस थाना हाथरस जन्कशन जिला हाथरस उत्तरप्रदेश, रघुवीर सिंह सुपुत्र हरिपाल सिंह पुलिस थाना हाथरस जन्कशन जिला हाथरस उत्तरप्रदेश तथा रूस्तम अली सुपुत्र शुक्राद्दीन निवासी पुलिस थाना दरकाटी ज्वाली जिला कांगड़ा शामिल हैं।