ख़बरदेश

कराची बेकरी पर लोगो का बवाल, छुपाना पड़ा दुकान का नाम….

कराची बेकरी पर फूटा गुस्सा, ढकना पड़ा दुकान का नाम

जम्मू कश्मीर में हुए आतंकी हमले से पूरे देश के लोगो में आक्रोश है,. सड़को पर पाकिस्तान जिंदाबाद के नारे लोग लगा रहे है इस बीच  लोगों ने पाकिस्तान का पुतला फूंककर अपना गुस्सा जाहिर किया और केंद्र सरकार से आतंकवाद को जड़ से उखाड़ फेंकने की मांग की। इस बीच बॉलीवुड सेलेब्स ने भी आतंकी हमले को लेकर रोष जताया है। इस बीच पुलवामा अटैक के बाद जहां कई जगहों पर कश्मीरियों के ऊपर अटैक होने की खबर आ चुकी है, अब कराची बेकरी नाम की दुकान को भी विरोध झेलना पड़ा है. शुक्रवार रात कुछ लोगों ने कराची बेकरी को लेकर विरोध-प्रदर्शन किया.

बताते चले कराची बेकरी के एक आउटलेट के साइनबोर्ड पर लिखे कराची शब्द को विरोध के बाद छुपा दिया गया है। दरअसल पुलवामा आतंकी हमले के बाद देशभर में पाकिस्तान विरोधी प्रदर्शन हो रहे हैं। इसी कड़ी में बेंगलुरु में भी इस आउटलेट के बाहर बड़ी संख्या में लोगों ने इसके नाम के विरोध में प्रदर्शन करना शुरू कर दिया था। विरोध को देखते हुए आउटलेट ओनर ने इसके साइनबोर्ड से कराची शब्द को कवर कर छुपा दिया है।

कराची बेकरी पर फूटा गुस्सा, ढकना पड़ा दुकान का नाम

बता दें कि पाकिस्तान समर्थित आतंकी समूह जैश-ए-मोहम्मद के द्वारा हमले की जिम्मेदारी लिए जाने के बाद से ही देशभर से पाक विरोधी स्वर उठ रहे हैं। पुलिस ने इस बात की पुष्टि करते हुए बताया कि शुक्रवार रात उन्हें बेकरी से एक कॉल आई थी जिसमें उन्हें इस तरह की बात बताई गई थी। पुलिस ने बताया कि हालांकि बेकरी आउटलेट में किसी भी तरह की कोई तोड़-फोड़ की सूचना नहीं आई है।

कराची बेकरी पर फूटा गुस्सा, ढकना पड़ा दुकान का नाम

आउटलेट के बाहर विरोध कर रहे प्रदर्शनकारियों का दावा है कि

कराची बेकरी पर फूटा गुस्सा, ढकना पड़ा दुकान का नाम

यह बेकरी आउटलेट पाकिस्तान से संचालित किया जाता है। आपको बता दें कि पुलवामा में हुए आत्मघाती हमले के बाद देश भर में कश्मीरी छात्रों और व्यापारियों के साथ बदसलूकी की खबरें सामने आ रही हैं। कई कश्मीरी छात्रों के खिलाफ आतंकी हमले का समर्थन करने के लिए मानहानि के आरोप में मामला भी दर्ज किया गया है।

जम्मू कश्मीर के एक पत्रकार के साथ महाराष्ट्र के पुणे में मार-पीट करने का भी मामला सामने आया है। कश्मीर के जिब्रान नाजिर जो पुणे के एक अखबार में काम करते हैं उन्हें दो लोगों के द्वारा पीटे जाने की खबर सामने आई है।

उन्होंने कहा कि वे नाजिर को कश्मीर भेजना चाहते हैं। स्थानीय पुलिस ने कहा है कि उन्होंने उन दो के खिलाफ मामला दर्ज कर एक को गिरफ्तार कर लिया है। बता दें कि 22 फरवरी को सुप्रीम कोर्ट ने केंद्र सरकार और 10 राज्य सरकारों को कश्मीरी छात्रों के ऊपर हो रहे हमले को रोकने के लिए कारगर कदम उठाने के निर्देश दिए थे।

Back to top button