सेहत

इस पेड़ के पत्ते 3 दिन में बना देते हैं पहलवान, बूढ़ों में लौट आती जवानी

बरगद का पेड़ पुरुषों की मर्दाना कमजोरी को दूर करने के साथ-साथ सर्दी, जुकाम, बुखार और डायबिटीज को भी खत्म करता है। यह पेड़ दिखने में विशाल होने के साथ-साथ शरीर के लिए बहुत फायदेमंद होता है। और इसमें कई औषधीय गुण पाए जाते हैं।

आइए बरगद के पेड़ के फायदे जानते है। दोस्तों मर्दाना कमजोरी को दूर करने में मददगार है बरगद का पेड़, और कई रोगों में भी है फायदेमंद।

दांतो की बीमारियां : बरगद के पेड़ का दूध रुई की सहायता से दातों पर लगाने से दातों का कीड़ा तुरंत मर जाएगा। इसके अलावा 10 ग्राम बरगद की छाल, कत्था और 2 ग्राम काली मिर्च को बारीक पीसकर दातों पर मंजन की तरह इस्तेमाल करने से दांतों की सभी प्रकार की बीमारियां जैसे दांत दर्द, दांत में कीड़ा लगना, सड़न और पायरिया खत्म हो जाएंगे।

पायल्स से छुटकारा : बरगद के दूध में शक्कर मिलाकर पीने से पाइल्स की बीमारी जड़ से खत्म होती है। इसके अलावा शरीर के किसी अंग पर लगी चोट से आने वाली सूजन से भी छुटकारा मिलता है। स्पर्म काउंट बढ़ाएं : बरगद के दूध का पुरुष अगर सुबह खाली पेट सेवन करेंगे तो शारीरिक और मर्दाना कमजोरी जड़ से खत्म होगी। और पुरुषों में स्पर्म काउंट की संख्या बढ़ेगी।

कमर दर्द से छुटकारा : बरगद के दूध का कमर पर लेप करने से दर्द तुरंत खत्म हो जाएगा। बरगद के दूध की कमर पर मालिश करने से पुराने से पुराना कमर दर्द भी खत्म हो जाएगा।

बालों की समस्याओं से छुटकारा : बरगद के पत्तों की राख में अलसी का तेल मिलाकर बालों में लगाने से बाल झड़ने, बाल टूटने की समस्या खत्म हो जाएगी। इसके अलावा रूखे बालों से भी छुटकारा मिलेगा।

घाव भरने में फायदेमंद : बरगद के पत्तों को दही में मिलाकर किसी चोट या घाव पर लगाने से तुरंत दर्द से राहत मिलती है। और घाव जल्दी भरता है।

झुर्रियों से छुटकारा : बरगद की जड़ों को पीसकर चेहरे पर लगाने से फुंसियां और झुर्रियां खत्म होती है। क्योंकि बरगद की जड़ों में पाए जाने वाले एंटीऑक्सीडेंट गुण त्वचा के लिए फायदेमंद होते हैं।

Back to top button