क्राइम

अंधविश्वास: डायन के शक में भतीजे ने चाची को कुल्हाड़ी से काटकर उतारा मौत के घाट, फिर…

 

खूंटी के तोरपा थाना के होटोर गांव में डायन के अंधविश्वास ने फिर एक निर्दोष महिला की जान ले ली। डायन के संदेह में 45 वर्षीय महिला सुषणा भेंगरा की हत्या उसके सगे भतीजे ओंगा भेंगरा ने कुल्हाड़ी से काटकर कर की। बाद में आरोपित भतीजे ने तोरपा थाने में पहुंच कर आत्मसमर्पण कर दिया। घटना गुरुवार देर रात की है।

ओंगा भेंगरा ने बताया कि 15 दिन पहले उसके नौ वर्षीय बेटे दिलीप भेंगरा की मौत हो गयी थी। उसने बताया कि उसकी चाची ने ओंगा से कहा था कि उसका एक बेटा तो मर गया, दूसरा बेटा भी मर जायेगा। इससे ओंगा बौखला गया। गुरुवार की रात और उसने जमकर हंड़िया का सेवन किया और उसके बाद चाची के घर में घुस गया। गहरी नींद में सो रही चाची सुषणा भेंगरा की गर्दन और सिर पर टांगी से कई वार कर दिया। गंभीर रूप से घायल सुषणा को तोरपा रेफरल अस्पताल ले जाया गया, जहां डाॅक्टर ने उसे मृत घोषित कर दिया।

शुक्रवार की सुबह पांच बजे हत्यारे भतीजे ने थाने में आत्मसमर्पण कर दिया। ओंगा की निशानदेही पर उसके घर से हत्या में प्रयुक्त कुल्हाड़ी को पुलिस ने बरामद कर लिया। शव का पोस्टमार्टम कराकर परिजनों को सौंप दिया गया। आरोपित युवक को न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया गया है।

Back to top button