देश

आर्टिकल 370 और 35ए खत्म, श्रीनगर सचिवालय पर अब सिर्फ एक झंडा, लहराया तिरंगा

श्रीनगर । जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 समाप्त करने के बाद श्रीनगर सचिवालय पर अब तक फहरा रहा राज्य का झंडा रविवार को हटा लिया गया। अब श्रीनगर सचिवालय की इमारत पर केवल राष्ट्रीय ध्वज तिरंगा ही लहरा रहा है। इसके अलावा जम्मू-कश्मीर के सभी सरकारी दफ्तरों में भी केवल राष्ट्रीय ध्वज तिरंगा ही लगाया जाएगा।

जम्मू-कश्मीर से 5 अगस्त को केंद्र द्वारा अनुच्छेद 370 को हटा दिया गया था। इसके तहत राज्य को मिलने वाले विशेषाधिकार खत्म कर दिए गए। इससे पहले जम्मू-कश्मीर का अपना संविधान, झंडा और दंड संहिता होता था लेकिन अनुच्छेद 370 हटाए जाने के बाद अब भारतीय संविधान लागू होगा। सरकारी इमारतों पर तिरंगा लहराएगा और भारतीय दंड संहिता का पालन होगा।

अनुच्छेद 370 को हटाए जाने के बाद कश्मीर घाटी में 35 हजार से ज्यादा सुरक्षा बलों को तैनात किया गया है। अनुच्छेद 370 हटाए जाने के 3 हफ्ते बाद कई इलाकों में कर्फ्यू में ढील दी गई है। लोगों की आवाजाही सड़कों पर पहले की तरह शुरू हो गई है। छात्र-छात्राएं स्कूल और कॉलेज जा रहे हैं। सरकारी दफ्तरों में भी कामकाज शुरू हो गया है।

कश्मीर घाटी के ज्यादातर इलाकों में रविवार को भी पहले की तरह प्रतिबंध हटा लिए गए, मगर कुछ संवेदनशील स्थानों पर अभी भी प्रतिबंध लागू हैं। रविवार को आंशिक रूप से दुकानें तथा व्यापारिक प्रतिष्ठान खुले। सड़कों पर रेहड़ी फड़ी वालों की संख्या ज्यादा देखी गई। इस सबके बीच रविवार की छुट्टी होने के चलते स्कूल, कालेज सब बंद रहे। सड़कों पर लोगों की आवाजाही भी शांतिपूर्ण ही रही।

सड़कों पर निजी वाहन भी बड़ी संख्या में नज़र आए। इस दौरान सभी संवेदनशील स्थानों पर अतिरिक्त सुरक्षाबलों को तैनात किया गया है। कश्मीर घाटी में फिलहाल मोबाइल, इंटरनेट तथा ब्राडबैंड सेवा बंद है जबकि कश्मीर घाटी के ज्यादातर इलाकों में लैंडलाइन सेवा बहाल कर दी गई है।

Back to top button