उत्तर प्रदेश

धड़धड़ाते हुए उतरे सेना के हेलीकॉप्टर, वाराणसी में लगा मजमा, आखिर ऐसा क्या हुआ?

Image result for सेना के हेलीकाप्टरों ने किया टच एंड गो रिहर्सल

जम्मू कश्मीर के पुलवामा में सीआरपीएफ जवानों पर हुए फिदायनी हमले के बाद वाराणसी में मंगलवार को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की सुरक्षा व्यवस्था को लेकर एसपीजी के साथ जिला प्रशासन बेहद गम्भीर और संजीदा है। सोमवार को प्रधानमंत्री की सुरक्षा व्यवस्था को अन्तिम रूप देने के बाद ग्रैंड रिहर्सल किया गया। सुरक्षा तैयारियों को पुख्ता करने के लिए बाबतपुर स्थित लाल बहादुर शास्त्री अन्तर राष्ट्रीय एयरपोर्ट से वायुसेना के दो हेलिकाप्टरों ने उड़ान भरी।

दोनों हेलिकाप्टरों को बीएचयू हेलीपैड पर उतार कर टच एंड गो का रिहर्सल किया गया। इसके बाद ग्रैंड रिहर्सल में बीएचयू हेलीपैड से सीरगोवर्धनपुर स्थित रविदास मंदिर तक गाड़ियों की डमी फ्लीट दौड़ाई गई। इस दौरान एसपीजी के अफसरों के अगुवाई में समय, ब्रेक फ्री मूवमेंट सहित कई बिंदुओं पर रिपोर्ट तैयार की गई। ग्रैंड रिहर्सल के दौरान डमी फ्लीट को एक प्वाइंट से दूसरे प्वाइंट तक भी भेजा गया। इसके बाद शाम को प्रधानमंत्री के कार्यक्रम स्थल को एसपीजी ने पूर्ण रूप से अपनी निगरानी में लेकर सील कर दिया। बाबतपुर एयरपोर्ट, बीएचयू, संत रविदास मंदिर, औढ़े गांव में सभास्थल पर फुलप्रूफ सिक्योरिटी के लिए एसपीजी ने बम डिस्पोजल स्क्वायड, माइंस डिटेक्टर व अन्य मार्डन डिवाइसेज से एंटी सेबोटाज जांच कर स्थल का चप्पा-चप्पा छाना। कार्यक्रम स्थल पर एंटी मिसाइल वेपंस व एंटी लैंड माइंस के अलावा अत्याधुनिक उपकरण से हर पल मानीटरिंग की जा रही है।

एसपीजी के आला अधिकारियों ने पीएम के आने- जाने के लिए निर्धारित स्थानों पर खास सुरक्षा का घेरा तैयार किया है। मंगलवार को प्रधानमंत्री एसपीजी के अभेद्य घेरे में रहेंगे। उनकी सुरक्षा में एनएसजी कमांडो, एंटी टेररिस्ट स्क्वॉड, केंद्रीय खुफिया इकाइयों के जवान, सेंट्रल पैरामिलिट्री फोर्स, पीएसी और पुलिस के जवान भी तैनात कर दिये गये हैं। प्रधानमंत्री के आवागमन के रूट की इमारतों पर रूफ टॉप फोर्स तैनात की गई हैं। प्रधानमंत्री का कार्यक्रम स्थल वीडियो कैमरे की निगरानी में रहेगा। सुरक्षा व्यवस्था को लेकर एडीजी वाराणसी जोन पीवी रामाशास्त्री के अगुवाई में एसएसपी आनन्द कुलकर्णी ने फोर्स के जवानों के साथ बैंठक कर उन्हें उनके ड्यूटी प्वांइट के बारे में बताया और आवश्यक दिशा निर्देश देकर पूरी मुस्तैदी के साथ कर्तव्य निर्वहन पर जोर दिया।

इसी क्रम में एसपीजी के अधिकारियों ने प्रधानमंत्री के कार्यक्रम स्थल, मंच, जनसभा में लोगों के प्रवेश के प्वाइंट्स, मंच, डी, वीवीआईपी प्रवेश, आने-जाने के लिए तय रूट का माइंस डिटेक्टर व बम डिस्पोजल स्क्वायड टीम से जांच करायी। इस एरिया में चिह्नित लोगों को ही प्रवेश की अनुमति दी जा रही हैं। एसपीजी टीम ने प्रधानमंत्री के कार्यक्रम की सुरक्षा व्यवस्था में लगे अफसरों, सुरक्षा अधिकारियों की भी लिस्ट जिला प्रशासन से ले ली है। सभा में आमंत्रण पत्र,आधार कार्ड या कोई पहचान पत्र दिखाने पर मिलेगा प्रवेश औढ़े गांव स्थित प्रधानमंत्री के जनसभा स्थल का एसएसपी आनंद कुलकर्णी, एसपी सिटी दिनेश सिंह ने निरीक्षण कर सुरक्षा व्यवस्था का जायजा लिया। अफसरों के अनुसार सभा स्थल पर आने वाले लोगों को आमंत्रण पत्र, आधार कार्ड या कोई पहचान पत्र दिखाने पर ही प्रवेश मिलेगा। बिना पहचान पत्र के प्रवेश नही मिलेगा। सभा में आने वाले लोगों की सघनता से जांच की जायेगी।

सभा में किसी भी प्रकार की संदिग्ध वस्तु ले जाने और काला कपड़ा पहनकर जाने वालों को प्रवेश नही दिया जायेगा। प्रधानमंत्री की सुरक्षा में चार हजार से अधिक जवानों को तैनात किया गया है। इसमें 18 एसपी, 25 एडीशनल एसपी, 47 डीएसपी, 16 थानाध्यक्ष, दो हजार दारोगा व कांस्टेबल, 200 महिला सब इंस्पेक्टर व कांस्टेबल, 250 होमगार्ड शामिल हैं। इसके अलावा 10 कंपनी पीएसी और 10 कंपनी पैरामिलिट्री फोर्स भी सुरक्षा की कमान संभालेंगे। यातायात व्यवस्था के लिए ट्रैफिक इंस्पेक्टर, ट्रैफिक सब इंस्पेक्टर व ट्रैफिक कांस्टेबल लगाए गये हैं।

Back to top button