उत्तर प्रदेशख़बर

राजीव की अमेठी से दिल्ली गई ये चिट्ठी, खून से लिखा गया- मोदी ने गलत बात बोली

पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी पर पीएम नरेन्द्र मोदी की टिप्पणी से जहां एक तरफ सियासी बवाल मचा हुआ है. तो वहीं दूसरी तरफ एक शख्स ने इस मामले में  ‘खून’ से चुनाव आयोग को चिट्ठी लिखकर विरोध जताया है. यूपी के अमेठी का एक आदमी प्रधानमंत्री मोदी की पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी पर की गई टिप्पणी से नाराज है. इसीलिए उसने इस चिट्ठी में आपत्तिजनक टिप्पणी रोकने के लिए निर्देश देने की मांग की है. सबसे खास बात ये है कि चिट्ठी खून से लिखी गई है.

अमेठी के शाहगढ़ निवासी मनोज कश्यप ने खून से लिखे पत्र में चुनाव आयोग से यह मांग की है कि आयोग पीएम नरेंद्र मोदी को वोट के लिए आपत्तिजनक टिप्पणी करने से रोके, जिससे करोड़ो लोगों की भावनाएं आहत न हों. उन्होंने अपने पत्र में कहा कि पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी को को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की टिप्पणी से उन्हें काफी पीड़ा हुई है.

इस चिट्ठी में मनोज ने जिक्र किया है कि राजीव गांधी ने हमें 18 साल में वोट देने का अधिकार दिया, कंप्यूटर दिया और पंचायती राज व्यवस्था की. पत्र में मनोज ने यह भी प्वाइंट आउट किया है कि पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी ने एक आर्टिकल में राजीव गांधी की प्रशंसा की है.

वह आगे लिखते हैं कि अमेठी के लोगों में राजीव गांधी का अपनाम करने वालों के लिए वही भाव है, जो उनकी हत्या करने वालों के लिए है. मनोज कश्यप ने लिखा है कि राजीव गांधी अमेठी के साथ-साथ देश के लोगों के दिल में बसते हैं. पीएम मोदी को पूर्व पीएम को लेकर ऐसी टिप्पणी न करने को लेकर निर्देश जरूर मिलना चाहिए.

इस पत्र को कांग्रेस के एमएलएसी दीपक सिंह ने अपने ट्विटर अकाउंट पर शेयर किया है. हालांकि, कश्यप ने अपने पत्र में कहा है कि मेरे पत्र के इस दर्द पर राजनीति न किया जाए.

Back to top button