अखिलेश यादव की चुटकी, जेब में अफीम की पुड़िया लेकर चलते हैं भाजपाई

उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने एक बार फिर बीजेपी सरकार को निशाने पर लिया है. उन्होंने कहा कि मैं इस बात से हैरान हूं कि कैसे बीजेपी के लोग डंके की चोट पर झूठ बोलते हैं. इन लोगों ने लखनऊ के लिए एक भी काम नहीं किया है.

गरीबों का सबकुछ छीना

कमाल की सरकार है, ये कहते हैं कि एनकाउंटर कर देंगे तब तो अपराध कम होना चाहिए था लेकिन नोएडा में तीन भाजपा के नेताओं की हत्या कर दी गई. चुनाव में इन लोगों ने जनता को बहका दिया, आज गरीब सोच रहा है कि उनका सबकुछ छीन लिया, व्यापारी का सबकुछ छीन लिया, जो जनता को दुख देता है, तकलीफ देता है जनता उसका हिसाब करती है.

ताजमहल में लगानी पड़ी झाड़ू

आप ताजमहल के बारे में क्या-क्या कहते थे, लेकिन वेस्ट गेट पर झाड़ू लगाने के लिए जाना पड़ गया. पर्यटक सुरक्षित नहीं है, फतेहपुर में आपके लोग सेल्फी लेना चाहते थे, जिद कर रहे थे, उनके साथ मारपीट की गई. आपने कहा कि आलू के किसानों को दिक्कत नहीं होगी, लेकिन सीएम को पता ही नहीं है, कोल्ड स्टोर भरे पड़े हैं, कोई खरीदने वाला नहीं है. लेकिन मुख्यमंत्री ने हिमाचल में कहा कि हमने आलू की समस्या खत्म कर दी.

पहली बार उद्घाटन का उद्घाटन

योगी सरकार पर हमला बोलते हुए अखिलेश ने कहा कि जांच पर जांच, उद्घाटन फिर उद्घाटन, ये पहले मुख्यमंत्री हैं जिन्होंने उद्घाटन का उद्घाटन किया है. ये लोग लखनऊ मेट्रो को प्रधानमंत्री मोदी का सपना बताते हैं, लेकिन जब मेट्रो बननी शुरू हुई थी प्रधानमंत्री नहीं थे, तो उन्होंने सपना कब देख लिया वहीं सपा नेताओं पर अपराध के मामलों में अखिलेश ने कहा कि ये अपनी सरकार में झांके क्या उनके लोगों पर मुकदमे पर नहीं हैं, उनकी सरकार में बैठे किसी पर मुकदमा नहीं है, ये लोग काम नहीं करना चाहते हैं.

जेब में अफीम रखते हैं भाजपा वाले

अखिलेश ने कहा कि बीजेपी के लोग अपनी जेब में अफीम की पुड़िया रखते हैं, जब ध्यान हटाना होता है तो अफीम की पुड़िया निकाल लेते हैं. मैं जनता से कहना चाहता हूं कि वह मुझे सिखा दे कि भरोसे के साथ कैसे झूठ बोला जाता है. भाजपा से आप उम्मीद करते हैं मुगल म्युजियम बनाएंगे आगरा के विकास के लिए जो पानी आना था उसे इन लोगों ने रोका है, जो समाजवादी काम थे उसे ही अपना काम बता रहे हैं.

हर मुद्दे के बीच में धर्म

धर्म के मुद्दे पर कहा कि यह पूरी तरह से व्यक्तिगत मामला है, मैं भी गो सेवा करता हूं, मेरी पत्नी नवरात्र में व्रत रखती है, लेकिन ये लोग सबकुछ लोगों के बीच में लाना चाहते हैं, अगर मैं भी चाहूं तो गोबर की फोटो सोशल मीडिया पर डाल दूं, इन लोगों ने सरकारी हेलीकॉप्टर को पुष्पक विमान बता दिया.

बीजेपी सरकार में कई मुख्यमंत्री

सपा सरकार के दौरान साढ़े चार मुख्यमंत्री के सवाल के जवाब पर अखिलेश ने कहा कि इस सरकार में एक मुख्यमंत्री, दो उपमुख्यमंत्री, एक घूमने वाले मंत्री, दो बोलने वाले मंत्री, एक केंद्र से निर्देश देने वाला मंत्री है. मैं बताना चाहता हूं कि एक उपमुख्यमंत्री मुख्यमंत्री कार्यालय में गए तो उनका नाम भी हटा दिया, कुर्सी हटा दी गई. वह कहते हैं कि सरकार हमने बनाई हैं बैठ कोई और गया है.

राहुल जी को बधाई

आने वाले दिनों में राहुल गांधी को कांग्रेस की कमान मिलने को लेकर अखिलेश ने कहा कि चलो अच्छा है कि उनकी पार्टी में भी नई पीढ़ी आ रही है. वहीं 2019 में गठबंधन के सवाल पर उन्होंने कहा कि अभी कहना मुश्किल है कि आगे क्या होगा, लेकिन मैं कहना चाहता हूं कि अच्छा है कि नई पीढ़ी आगे आई है.