Breaking News
Home / ख़बर / राजनीति / लोकसभा में प्रचंड जीत के बाद अब मिशन विधानसभा में जुटे शाह, बुलाई खास बैठक 

लोकसभा में प्रचंड जीत के बाद अब मिशन विधानसभा में जुटे शाह, बुलाई खास बैठक 

 

हरियाणा की माटी में पहली बार सभी 10 सीटों पर कमल खिलने से शीर्ष नेतृत्व से लेकर हर कार्यकर्ता उत्साहित है। खुद मुख्यमंत्री मनोहर लाल कार्यकर्ताओं का उत्साह बढ़ाने के लिए जिलास्तर पर अभिनंदन समारोह में फूल बरसा कर स्वागत कर रहे हैं। इस सिलसिले में रविवार को दिल्ली के हरियाणा भवन में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के राष्ट्रीय अध्यक्ष और केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह की अध्यक्षता में हरियाणा कोर ग्रुप की बैठक हुई।

इसमें मुख्यमंत्री से लेकर सभी पदाधिकारियों की पीठ थपथपाई गई। राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने सभी नेताओं को ऐतिहासिक जीत के लिए बधाई दी। इस दौरान लोकसभा चुनाव की समीक्षा करने के साथ आगामी विधानसभा चुनाव पर चर्चा की गई।  मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने कहा, आगामी विधानसभा चुनाव के भाजपा प्रदेश कार्यकारिणी पूरी तरह तैयार है।

जिलास्तर पर कार्यकर्ताओं के साथ मिलन समारोह करने के साथ आगामी विधानसभा चुनाव की रणनीति तय की जा रही है। बैठक में राष्ट्रीय संगठन मंत्री रामलाल, केंद्रीय राज्यमंत्री राव इंद्रजीत, कृष्णपाल गुर्जर, रतन लाल कटारिया, प्रदेशाध्यक्ष सुभाष बराला, प्रदेश संगठन मंत्री सुरेश भट्ट, शिक्षामंत्री रामबिलास, कृषिमंत्री ओपी धनखड़, वित्तमंत्री कैप्टन अभिमन्यु, राज्यसभा सदस्य बीरेंद्र सिंह, करनाल से सांसद और प्रदेश महामंत्री संजय भाटिया, प्रदेश महामंत्री संदीप जोशी और एडवोकेट वेदपाल ने हिस्सा लिया।

मिली जानकारी के मुताबिक इस साल के अंत में होने वाले विधानसभा चुनाव भाजपा के लिए दोहरी चुनौती हैं। बीजेपी को इन तीनों राज्यों में सरकार विरोधी लहर का सामना करना पड़ सकता है। साथ ही ये चुनाव नई चुनकर आई मोदी सरकार की कामयाबी का टेस्ट भी होगा।

हरियाणा में भाजपा विधानसभा का चुनाव अकेले लड़ रही है। जबकि महाराष्ट्र में बीजेपी शिवसेना और आरपीआई के साथ मिलकर विधानसभा चुनाव में उतरेगी। महाराष्ट्र में सूखा और पेयजल की समस्या विकराल है. इस मुद्दे पर बीजेपी को जनता के अंसतोष का सामना करना पड़ सकता है। झारखंड में बीजेपी स्थानीय आजसू के साथ मिलकर चुनाव लड़ती आ रही है. इस राज्य में भूख से हुई मौतें पहले से ही चुनावी मुद्दा बन गया है। इसके अलावा पानी की कमी, सूखा, बिजली की किल्लत, रोजगार बड़े चुनावी मुद्दे हैं।

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com