हार से बाद कांग्रेस में मचा हाहाकार, आखिर तोड़ी सिद्धू ने चुप्पी कह डाली ये बात

0
29

चंडीगढ़  । लोकसभा चुनाव के दौरान पंजाब में कांग्रेस के मिशन-13 की असफलता के लिए मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू ने मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह पर तंज कसा है।

सिद्धू ने गुरुवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान मिशन-13 की असफलता के लिए अपने विभाग को जिम्मेदार ठहराने पर कहा कि पिछले विधानसभा चुनाव (वर्ष 2012) में स्वयं कैप्टन अमरिंदर लम्बी सीट से प्रकाश सिंह बादल के मुकाबले चुनाव हार गए थे, तब जिम्मेदारी कहां थी? जब कैप्टन का बेटा रणिंदर बठिंडा से हरसिमरत कौर बादल से 1.20 लाख मतों से हार गए थे, तब क्या हुआ था?

उल्लेखनीय है कि पंजाब में लोकसभा चुनावों में सत्ताधारी कांग्रेस ने राज्य की 13 लोकसभा सीटें जीतने के लिए मिशन-13 शुरू किया था। कांग्रेस ने इस चुनाव में लोकसभा की आठ सीटें जीती हैं, जबकि वर्ष 2014 के चुनाव में पार्टी ने सिर्फ चार सीटों पर ही जीत दर्ज कर सकी थी।

राहुल गांधी के करीबी माने जाने वाले सिद्धू की गुरुवार की प्रेस कॉन्फ्रेंस उनके बढे़ हुए हौसले की प्रतीक मानी जा रही है। मुख्यमंत्री की चाय पार्टी में राहुल के नेतृत्व पर भरोसा प्रकट किया गया, लेकिन सिद्धू के विरुद्ध कोई बड़ी राय नहीं बन सकी। सूत्रों के मुताबिक मुख्यमंत्री अपने मंत्रिपरिषद में फेरबदल कर सकते हैं।