Top News
इनमें से चुनिए कोई 1 गुलाब, आपकी पसंद बताएगी भविष्य…शमी की बाउंसर पर लिटन दास हुए बेदम, पहुंचे अस्पताल…4 शहीदों के शव हैं बताते, झूठे हैं लाल आतंक…करोड़पति बनते हैं इन लड़कियों के पति, क्या आपका नाम…23 नवम्बर राशिफल : आज इन 5 राशियों पर बरसेगी…लखनऊ मेट्रो भर्ती 2019 : इन पदों पर निकली बंपर…प्यार में उम्र नहीं देखे ये टीवी सितारे, पार्टनर से…राम-कृष्ण के वजूद पर AAP नेता ने उठाए सवाल, ट्विटर…Xiaomi के स्मार्टफोन में लगी आग, बाल-बाल बची जान, कंपनी…हेलीकॉप्टर में मजदूर की बेटी को कराया विदा, जाते-जाते गांववालों…मां बनने के बाद इतने दिन ना बनाएं शारीरिक संबंध,…ये काम करती है जिस घर की महिला, वो हमेशा…फैशन के चक्‍कर में इस हिरोइन का दिखा सबकुछ, कई…अफसर के लिए चाय लेने गए थे कांस्टेबल, वापस लौटे…केसर असली है या नकली? इस तरीके से करें पहचान,…घर की इस दिशा में कभी ना रखें पैसे, पूरा…अनुष्का ने जब किया बहुत बड़ा खुलासा, कहा- मुझे गलत…पाक महिला ने सरेआम छेड़ा सऊदी मर्द, किसी ने बना…मासूम ने खेल-खेल में निगल ली बैटरी, पेट में हुआ…सपना चौधरी ने ऐसे किया ‘रसगुल्ला’ डांस, सोशल मीडिया पर…भोजपुरी स्टार के इस अंदाज़ ने सभी को किया मदहोश,…जोक्स : घूरते हुए लड़के से बोली लड़की- घर में…चाहे जैसा हो दाद-खाज, करें ये आसान उपाय, हमेशा के…मेरठ की लड़की को पाकिस्तानी ने किया किडनैप, एक नया…महाराष्ट्र का एक वोटर पहुंच गया सुप्रीम कोर्ट, बोला- साहब..हमें…कितने दिलचस्प होते हैं “S” नाम वाले लोग, क्लिक करके…अनु मलिक से छिनी इंडियन आइडल के जज की कुर्सी,…Aus Vs Pak: पाकिस्तानों को लगा कि आउट हो गए वॉर्नर,…ट्विंकल से छिपकर अक्षय करते हैं ये काम, जानकर होश…ट्रक में भरे 900 किलो चिल्लर, पहुंच गया 50 लाख…महाराष्ट्र में नई सरकार का ऐलान, उद्धव होंगे अगले मुख्यमंत्री,…सिर्फ 1 दिन में ही गायब होंगी चेहरे की झुर्रियां,…MP के युवाओं के लिए खुशखबरी, एक लाख को मिलेगी…इस दिशा में खड़े होकर खाना बनाना शुभ, होती है…CMO के सामने पड़ गया दलाल, जिला अस्पताल में लगाया…पीएम मोदी से रवि किशन ने की गुजारिश- हमारे यहां…‘अपना घर-दुकान बचाओ, लागू है मोदी सरकार की “बाप दादों…साहा ने लपका जो कैच, वो है 2019 का बेस्ट,…परिणीति जब ने खोला जिंदगी का सबसे बड़ा राज, पूरी…निरमा वाशिंग पाउडर के पैकेट पर बनी है जो लड़की,…कैंसर के इन लक्षणों को कभी न करें अनदेखा, वरना…फटा दूध नहीं है बेकार, इसके तो हैं बड़े फायदे,…ऐसे लोग होते हैं हद से ज्‍यादा खर्चीले, बिना सोचे-समझे…एनर्जी ड्रिंक पीकर लगातार 48 घंटों से कर रही थी…इन खूंखार खलनायकों की लव-स्टोरी बेहद प्यारी, जानकर दंग रह…बस स्टॉप की स्क्रीन पर चलने लगी पोर्न, मुसाफिरों की…इस ‘कमेंट’ ने मजबूत किए बस कंडक्टर की बेटी के…मछली का सिर खाने का अगर रखते हैं शौक, तो…इस दिन करें कपूर और लौंग का ये उपाय, फिर…हैरतअंगेज़ तरीके से पाकिस्तानी खिलाड़ी हुआ रन आउट, तो मचा…

मोदी ने जिसको बताया था योद्धा, वो ही है लोकसभा में कांग्रेसियों का नेता

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता अधीर रंजन चौधरी को लोकसभा में कांग्रेस संसदीय दल का नेता चुना गया है। लोकसभा में पार्टी का नेता बनने से राहुल गांधी के इनकार करने के बाद यह निर्णय लिया गया। मंगलवार सुबह लंबी रणनीतिक चर्चा के बाद पार्टी ने यह फैसला किया। इस दौरान राहुल गांधी और उनकी मां और यूपीए अध्यक्ष सोनिया गांधी भी उपस्थित थीं। अधीर चौधरी का उल्लेख करते हुए लोकसभा को एक पत्र लिखा गया कि वो सबसे बड़ी विपक्षी पार्टी के नेता होंगे। पत्र में यह भी लिखा गया कि वो सभी महत्वपूर्ण चयन समितियों में पार्टी का प्रतिनिधित्व भी करेंगे।

गौरतलब है कि रविवार को हुई सर्वदलीय बैठक में कांग्रेस ने लोकसभा सांसदों में से अधीर रंजन को भेजकर इस बात का संकेत भी दिया था। मीडिया खबरों के मुताबिक, पश्चिम बंगाल में अधीर की जुझारू छवि के चलते ही सर्वदलीय बैठक में पीएम मोदी ने उनकी तारीफ करते हुए कहा कि अधीर बड़ा योद्धा है।

बता दें कि अधीर रंजन चौधरी के साथ-साथ केरल के नेता के सुरेश, पार्टी प्रवक्ता मनीष तिवारी और तिरुवनंतपुरम के सांसद शशि थरूर भी इस पद के लिए दौड़ में शामिल थे। लेकिन अधीर रंजन चौधरी को आखिरकार लोकसभा में कांग्रेस का नेता चुना गया।

17वीं लोकसभा में वरिष्ठता के लिहाज से भी अधीर कहीं आगे हैं। लोकसभा में कांग्रेस के सांसदों में अधीर के अलावा सिर्फ सोनिया गांधी 5 बार और केरल के सुरेश 6 बार के सांसद हैं। आने वाले दिनों में बंगाल में विधानसभा के चुनाव भी होने वाले हैं और ममता के खिलाफ अधीर की सियासी लड़ाई किसी से छिपी नहीं है। इसलिए कांग्रेस यह संदेश देना चाहती है कि वो जमीन से जुड़े और सियासी लड़ाई खुलकर लड़ने वाले नेता के साथ हैं।

कौन हैं अधीर रंजन चौधरी?
पश्चिम बंगाल के बहरामपुर से 5वीं बार सांसद बने अधीर रंजन चौधरी प्रदेश अध्यक्ष रह चुके हैं। इसके अलावा वह केंद्र सरकार में मंत्री और दो बार विधायक भी रह चुके हैं। अधीर रंजन चौधरी की छवि एक साहसी और जुझारू नेता की रही है। साथ ही अधीर को कांग्रेस आलाकमान का विश्वस्त भी माना जाता है। हालांकि, ममता बनर्जी के मुखर विरोधी होने के चलते लोकसभा चुनाव से ठीक पहले कांग्रेस ने अधीर को प्रदेश अध्यक्ष पद से हटा दिया गया था।

इसके अलावा अधीर 2009 से 2012 तक रक्षा संबंधी स्‍थायी समिति, संयुक्‍त संसदीय समिति, ऊर्जा संबंधी स्‍थायी समिति, प्राक्‍कलन समिति, परामर्शदात्री समिति, विदेश मंत्रालय, परामर्शदात्री समिति, खाद्य प्रसंस्‍करण मंत्रालय के सदस्‍य रहे। 2012 से 2014 तक केंद्रीय रेल राज्‍य मंत्री रहे। मई, 2014 में 16वीं लोकसभा के लिए चौथी बार निर्वाचित हुए। पिछली लोकसभा में वह गृह मंत्रालय संबंधी स्‍थायी समिति, संसद सदस्‍यों के वेतन तथा भत्ते संबंधी संयुक्‍त समिति, परामर्शदात्री समिति जल संसाधन, नदी विकास तथा गंगा संरक्षण मंत्रालय के सदस्‍य रहे।

Share this post

scroll to top