अडानी की छह कंपनियों के खिलाफ सुनवाई आज

Adani groupलखनऊ: राज्य नियामक आयोग में शुक्रवार को अडानी की ग्रीन एनर्जी, सहर्ष धारा, सुधाकर,अवध, टेक्निकल एसोसिएट आदि के सोलर पावर प्लांट प्रोजेक्ट के निरस्तीकरण नोटिस पर नियामक आयोग सुनवाई करेगा। राज्य में सोलर पावर प्लांट प्रोजेक्ट के लिए अडानी की छह कंपनियों ने यूपी पावर कारपोरेशन में आवेदन किया था, जिस पर यूपी पावर कारपोरेशन ने अनुमति दे दी थी, लेकिन निर्धारित समय में इन कंपनियों ने सोलर पावर प्रोजेक्ट की स्थापना नहीं की।

इस पर यूपीपीसीएल ने नवम्बर 2017 में छह सोलर पावर प्रोजेक्ट मेसर्स अडानी ग्रीन 50 मेगावाट, मेसर्स सहस्र धारा एनर्जी 5 मेगावाट, टेक्निकल एसोसिएट 10 मेगावाट, पेनायकल 5 मेगावाट, मेसर्स अवध रबर 5 मेगावाट, सुधाकर इनफाट्रेक 5 मेगावाट के प्रोजेक्ट के निरस्तीकरण की नोटिस दे दिया था। पावर कारपोरेशन ने प्रोजेक्ट में देरी और अधिक पावर परचेज टेरिफ के कारण इन कंपनियों को निरस्तीकरण का नोटिस दिया था।

Advertisement

दूसरी तरफ कंपनियों ने रेट कम करने की शर्त पर असहमति जताते हुए नियामक आयोग में गुहार लगायी है। जिस पर नियामक आयोग के अध्यक्ष एसके अग्रवाल ने यूपीपीसीएल को नोटिस जारी करते हुए 12 जनवरी 18 को सुनवाई की तिथि निर्धारित की है। यहां बताना जरूरी है कि सोलर पावर की बिजली की दरें 7 रुपये यूनिट पर है। ऐसे में इन कंपनियों को बिजली की रेट को और बढ़ाने की इजाजत देना उपभोक्ताओं के साथ अन्याय होगा।

advt