9 लाख होने वाले कोरोना केस, कई शहरों में फिर तालाबंदी, दोबारा लॉकडाउन होगा देश !

0
45

 

नई दिल्ली। बेकाबू कोरोना की रफ्तार थमने का नाम नहीं ले रहा है। रविवार को कोरोना वायरस ( Coronavirus Pandemic ) के रिकॉर्ड 29,089 नए केस सामने आए। एक दिन में यह अब तक की सबसे बड़ी संख्या है। वेबसाइट वर्ल्डोमीटर के मुताबिक अब भारत में कुल कोरोना केस का आंकड़ा 8,79,447 तक पहुंच गया है। इतना ही नहीं कई शहरों में कोरोना की तेज रफ्तार की वजह से नए सिरे से लॉकडाउन ( Lockdown ) लगाने की तैयारियां होने लगी हैं।

कल से 7 दिनों में कर्नाटक में पूर्ण लॉकडाउन

यूपी में सरकार ने तीन दिनों के संपूर्ण प्रदेश में लॉकडाउन लगाने का फैसला लिया। इससे पहले कर्नाटक और तमिलनाडु ने रविवार का लॉकडाउन लगा रहा। असम, अरुणाचल प्रदेश, मेघालय और बिहार जैसे राज्यों ने अलग-अलग अवधियों में क्षेत्रवार लॉकडाउन की घोषणा की है। कर्नाटक सरकार ने बेंगलुरु में 14 जुलाई से सात दिन के लिए पूरी तरह लॉकडाउन ( Complete Lockdown ) का ऐलान किया है। तमिलनाडु के मुख्यमंत्री के पलानीस्वामी ने मदुरै और आसपास के क्षेत्रों में पाबंदियां 14 जुलाई तक बढ़ा दी हैं।

पुणे और पिंपरी-चिंचवाड़ में 23 जुलाई तक लॉकडाउन

महाराष्ट्र समेंत पुणे और पिंपरी-चिंचवाड़ में 13 से 23 जुलाई पूर्ण लॉकडाउन की घोषणा पहले कर चुकी है। इससे पहले राज्य सरकार ने मुंबई के आसपास के क्षेत्रों में भी इसी तरह बंद की घोषणा की थी। कश्मीर में भी अधिकारियों ने रविवार को लॉकडाउन के एक और चरण के सख्ती से क्रियान्वयन की शुरूआत की। ऐतिहासिक लाल चौक को पूरी तरह बंद कर दिया। श्रीनगर के 67 अन्य क्षेत्रों को भी बंद कर दिया गया है जिन्हें पिछले एक सप्ताह में कोविड-19 ( Covid-19 ) के मामले अचानक से बढ़ने के बाद निषिद्ध क्षेत्र घोषित किया गया है।

ठीक होने वालों की संख्या संक्रमित मरीजों से ज्यादा

वेबसाइट वर्ल्डोमीटर के मुताबिक रविवार को 500 कोविड-19 मरीजों की मौत हुई। इसके साथ ही इस महामारी से मरने वालों की कुल तादाद 23,187 तक पहुंच चुकी है। हेल्थ मिनिस्ट्री की मुताबिक देश में स्वस्थ होने वाले लोगों की संख्या तेजी से बढ़ रही है। रविवार तक ठीक हुए लोगों की ऐक्टिव केसेज ( Active cases ) की संख्या से 2,42,362 अधिक हैं। रिकवरी रेट ( Recovery Rate ) सुधर कर 62.93 प्रतिशत हो गया है। देश में इस समय कोरोना वायरस से संक्रमित तीन लाख पार कर गया है।

मृत्यु दर 2.66 फीसदी

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन ने रविवार को कहा कि व्यापक जांच, निगरानी और क्लिनिकल मैनेजमेंट से कोविद-19 ( Covid-19 ) के मामलों की जल्द पहचान की वजह से भारत में 2.66 प्रतिशत की कम मृत्यु दर ( Death Rate ) है। संक्रमित लोगों के ठीक होने की दर से हमारी सफलता आंकी जा सकती है जो इस समय करीब 63 प्रतिशत है। 5.3 लाख से अधिक रोगी अब तक ठीक हो चुके हैं।

दिल्ली में कोरोना के 5 पॉजिटिव साइन

उन्होंने कहा कि दिल्ली जिस राह पर चल रही है अगर सब वैसा ही चलता रहा तो हम जल्द कोरोना वायरस को हरा सकते हैं। दिल्ली में 5 ऐसे पॉजिटिव साइन ( Positive Sign ) दिखे हैं जो बताते हैं कि स्थिति अब सुधर रही है। दिल्ली का रिकवरी रेट 80 प्रतिशत से ऊपर है। अभी सिर्फ 19 हजार ऐक्टिव केस हैं। मृत्यु दर जो पहले 3.64 फीसदी हो गई थी वह घटकर 3.02 प्रतिशत पर आ गई है।